हिन्दू धर्म के गीता महोत्सव में अमित शाह का विरोध,लोग बोले-शाह हिन्दू नही फिर उसे क्यों…

December 15, 2018 by No Comments

भाजपा के राष्ट्रिय अध्यक्ष अमित शाह का हिन्दू धर्म के एक कार्यक्रम में विरोध हो रहा है.कुछ लोगो का कहना है कि अमित शाह हिन्दू नही है फिर उन्हें क्यों इस कार्यक्रम का चीफ गेस्ट बनाया गया है.गौरतलब है कि शाह सरनेम जैन धर्म के लोग लगाते है और मीडिया में भी दावा किया जाता है कि अमित शाह हिन्दू नही बल्कि जैन धर्म से जुड़े है.
जाने पूरा मामला-अंतरराष्ट्रीय गीता जयंती महोत्सव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अध्यक्ष अमित शाह को मुख्यातिथि बनाए जाने पर विवाद खड़ा हो गया है.आम आदमी पार्टी (आप) के दिल्ली से विधायक सुरेंद्र कमांडो ने सवाल किया है कि भाजपा सरकार स्पष्ट करे कि अंतरराष्ट्रीय गीता जयंती महोत्सव में अमित शाह को किस प्रोटोकॉल से मुख्यातिथि बनाया गया है.
उन्होंने यह भी सवाल किया है कि वैसे तो भाजपा हिंदू-हिंदू जपा करती है,जबकि अमित शाह तो हिंदू ही नहीं हैं.कमांडो ने भाजयुमो के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य पुनीत मल्ल और उनकी पत्नी व झांसा की सरपंच मीनू मल्ल को आप में शामिल कराया है.इस दौरान उनके साथ आप के दिल्ली प्रभारी एवं विधायक राजेश गुप्ता,हरियाणा प्रदेश प्रवक्ता विशाल खुब्बड़ भी मौजूद थे.
कमांडो ने कहा कि भाजपा गीता महोत्सव जैसे पवित्र आयोजनों का उपयोग अपने करीबी लोगों को लाभ पहुंचने के लिए कर रही है.उन्होंने स्वामी ज्ञानानंद की गीता को ऊँची कीमतों पर खरीदने के साथ ही इस आयोजन को लेकर कई तरह के सवाल खड़े किए हैं.
आप कुरुक्षेत्र लोकसभा प्रभारी एवं दिल्ली वजीरपुर विधायक राजेश गुप्ता ने सीएम मनोहर लाल पर जमकर हमला बोला,गुप्ता ने कहा कि चुनाव आते ही केंद्र और प्रदेश भाजपा को अयोध्या राम मंदिर और जात-पांत व धर्म की याद आ जाती है.उन्होंने सीएम खट्टर द्वारा खुद को पंजाबी बताने को प्रदेश के लिए दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया, उन्होंने कहा कि सूबे के मुख्यमंत्री की कोई जात- बिरादरी नहीं होती.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *