हैदराबाद का नाम बदलने की बात पर भाजपा नेता को मिला करारा जवाब

November 10, 2018 by No Comments

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश से नाम बदलने की सियासत कुछ इस तरह से चली है कि रेलवे स्टेशन, शहर और मोहल्ले तक के नाम बादले जा रहे हैं. अब विकास के नाम पर नाम बदलने का खेल जब शुरू ही हो चुका है तो भाजपा नेता राजा सिंह क्यूँ पीछे रहते. उन्होंने भी बहती गंगा में हाथ धोने की कोशिश की और कह दिया कि हैदराबाद का नाम भी बदला जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि हैदराबाद का नाम भाग्यनगर किया जाना चाहिए. अब इसको लेकर कांग्रेस ने भाजपा नेता को करार जवाब दिया है. रेणुका चौधरी ने कहा कि राजा सिंह डायलॉगबाजी कर रहे हैं। जिससे बीजेपी को वोट मिलने वाला नहीं है।

रेणुका चौधरी ने आगे कहा कि मैं ख़ुद भी हैदराबादी हूँ। ऐतिहासिक शहर का नाम बदलने की कोई सोचे भी नहीं। चौधरी ने साफ़ कहा कि राजनीतिक वजहों से लोग शहरों का नाम बदलने की कोशिश कर रहे हैं। बता दें कि इससे पहले भारतीय जनता पार्टी के निवर्तमान विधायक टी. राजा सिंह ने कहा है कि अगर उनकी पार्टी सत्ता में आएगी तो हैदराबाद का नाम बदलकर भाग्यनगर रखा जाएगा।

पुराने शहर के याकुतपुरा निर्वाचन क्षेत्र से भाजपा उम्मीदवार रूपराजा के समर्थन में लाल दरवाजा पर आयोजित एक जनसभा को संबोधित करते हुए राजा सिंह ने ये बातें कही। उनके मुताबिक बीजेपी अगर सत्ता में आयी तो हैदराबाद का नाम बदलकर भाग्यनगर कर दिया जाएगा। नाम बदलने की “प्रथा” की शुरुआत देखा जाए तो उत्तर प्रदेश से हुई है. उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने इलाहाबाद और फ़ैज़ाबाद के नाम बदले हैं, इसके बाद से ही भाजपा के कई नेता सिर्फ़ नाम बदलने को ही बड़ा काम मानने लगे हैं.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *