मुझे बस एक ही बात का दुःख है कि मैं…. : चिदंबरम

अहमदाबाद: वरिष्ट कांग्रेस नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने बताया कि उन्हें अपनी ज़िन्दगी में एक बात का सबसे अधिक दुःख रहेगा कि वो कभी ऐसी सरकार में वित्त मंत्री नहीं बने जिसके पास पूर्ण बहुमत था. उन्होंने कहा कि absolute मेजोरिटी वाली सरकार में वो कभी वित्त मंत्री नहीं बन सके, इसका उन्हें दुःख रहेगा.

चिदंबरम ने इसके अलावा कहा कि विकास को सिर्फ़ इस बात से नहीं नापा जा सकता कि एक लाख करोड़ की बुलेट ट्रेन आएगी. उन्होंने कहा कि विकास का अर्थ हैडलाइन में आने वाली स्टोरीज़ नहीं होता, इसका अर्थ है बेहतर स्वास्थ सेवायें, साफ़ हवा, टॉयलेट, त्रन्स्पोततिओन, जेंडर जस्टिस इत्यादि.

कुछ अन्य ख़बरें , एक नज़र में
1. राजस्थान के कोटा में पद्मावती फ़िल्म का विरोध कर रहे करणी सेना के लोगों ने एक सिनेमा हॉल में तोड़फोड़ की. ये तोड़फोड़ सिनेमा हॉल में पद्मावती का ट्रेलर दिखाए जाने के बाद की गयी. पद्मावती को लेकर किये जा रहे विरोध के ख़िलाफ़ अब बॉलीवुड खड़ा हो गया है. निर्देशक श्याम बेनेगल भी अब फ़िल्म के समर्थन में आ गए हैं.

2. पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल से मिलने से इनकार कर दिया है. केजरीवाल दिल्ली में धुंध की स्थिति से निबटने के लिए सिंह से मुलाक़ात करना चाहते थे लेकिन अमरिंदर ने कहा कि ऐसी किसी मुलाक़ात का कोई मतलब नहीं है.

3. होमोसेक्सुअलिटी को लेकर दिए एक बयान की वजह से श्री श्री रविशंकर को आलोचना झेलनी पड़ रही है. वो आलिया भट्ट और सोनम कपूर के निशाने पर आ गए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.