गुजरात में अगर भाजपा को 150 से ज़्यादा सीटें मिले तो इसे EVM का चमत्कार समझें: राज ठाकरे

महाराष्ट्र: गुजरात विधानसभा के चलते हर राजनीतिक दल जीतने के लिए पूरी जी-जान से चुनाव प्रचार में लगा हुआ है।वहीँ मनसे के प्रमुख राज ठाकरे ने साल 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी की जीत का श्रेय राहुल गाँधी को दिया है। ठाकरे का कहना है कि प्रधानमंत्री मोदी की जीत का आधा श्रेय राहुल गांधी को जाता है क्योंकि उस दौरान का राहुल द्वारा मोदी का मजाक उड़ाया जाना मतदाताओं को पसंद नहीं आया। असल में उससे पीएम मोदी को चुनाव जीतने में मदद मिली थी।

इसके साथ उन्होंने कहा कि 15 फीसद सोशल मीडिया, करीब 10-20 फीसद बीजेपी के कार्यकर्ता और आरएसएस को भी श्रेय जाता है। बाकी तो उस वक़्त मोदी के भाषणों का जादू जनता के सर चढ़ा हुआ था। लेकिन इस बार गुजरात विधानसभा पर सामने आई रिपोर्ट ये संकेत दे रही हैं कि सत्तारुढ़ बीजेपी गुजरात में चुनाव हार सकती है। मोदी की जनसभाओं में अब जो नजारा देखने को मिलता है, उसमें लोग उनके भाषण के बीच में से ही जा रहे हैं, ऐसा पहले कभी नहीं हुआ था।

यूं तो इस बार बीजेपी के गुजरात चुनाव जीतने की संभावना बहुत कम है, लेकिन फिर भी अगर बीजेपी को 150 से ज्यादा सीटें भी मिल जाती है तो इसे ईवीएम का चमत्कार ही समझा जाना चाहिए। इससे पहले ठाकरे ने बयान दिया था कि गुजरात विधानसभा चुनाव के बाद विपक्षी दल मजबूत बनेंगे। हालांकि मैं सहमत हूं कि विपक्ष थोड़ा कमजोर है लेकिन गुजरात चुनाव के बाद विपक्ष में बड़ा ब्लाव देखने को मिलेगा। यह मजबूत बनेगा।

इस दौरान ठाकरे पीएम मोदी पर निशाना साधने से पीछे नहीं रहे। उन्होंने कहा था कि मुझे हैरानी हो रही है कि अपने ग्रहराज्य के लिए प्रधानमंत्री मोदी समेत इतने मंत्री गुजरात में इतनी रैलियां कर रहे हैं। भले ही यह प्रधानमंत्री का गृह राज्य है, लेकिन यह अच्छा नहीं लगता कि देश का प्रमुख एक राज्य के लिए चुनाव प्रचार कर रहा है।

राज ठाकरे से पहले शिवसेना सांसद संजय राऊत ने बयान दिया है कि देश की जनता में मोदी लहर खत्म हो चुकी है। राहुल के पक्ष में बोलते हुए उन्होंने कहा था कि वह देश का नेतृत्व करने में सक्षम हैं। उन्हें पप्पू कहना गलत है। पिछले दिनों गुजरात की रैलियों में जिस तरह से राहुल एक के बाद एक तंज कस रहे हैं और अपनी बात रख रहे हैं वो ये समझने के लिए काफी है कि वो एक मैच्योर नेता हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.