अगर आपके दिमाग में बुरे ख्याल आ रहे हैं तो उसको निकालने के लिए हज़रत अली ने फरमाया…

February 9, 2021 by No Comments

से’हत’मं’द जीवन के लिए नींद का पूरा होना काफी महत्वपूर्ण माना जाता है। मेडिकल साइंस के मुताबिक जब हम सोते हैं तो हमारा दि’मा’ग भले ही काम करता रहे। लेकिन अब हम रिलैक्स फील करते हैं। अक्सर लोगों को शि’का’यत रहती है कि जब भी मैं सोते हैं तो उन्हें बु’रे सपने आते हैं जिसकी वजह से उनकी नींद ख’रा’ब हो जाती है और फिर दोबारा उन्हें नींद नहीं आती।

तो आज हम आपको बताने जा रहे हैं एक ऐसा मौजू जिसके जरिए आप बु’रे ख्याल हाथ से बच सकते हैं। गौरतलब है कि आजकल के लाइफस्टाइल की वजह से लोगों के दिमाग में हर व’क्त कुछ ना कुछ चलता रहता है और रात में भी बु’रे ख्याल उनका पीछा नहीं छोड़ते। हमारे आका स’ल्ल’ल्ला’हू अ’ले’ही व’सल्ल’म ने ने फ’रमा’या है कि यह एक तरह की बी’मा’री है। जो इंसान पर शै’ता’न के हावी हो जाने से पैदा होती है।

मौजूदा दौर में यह बी’मा’री काफी आम हो चुकी है और यह बहुत ही ख’तर’ना’क नहीं है। इ’स्ला’म में कहा जाता है कि शैतान ही हमारे दि’मा’ग और दिल में पूरे ख्यालात डालता है। मिसाल के तौर पर की यह ख्याल आना कि क्या दुनिया में अ’ल्ला’ह मौजूद है या नहीं और अ’ल्ला’ह को किसने पै’दा किया इसके अलावा कु’रा’न जैसी प’वित्र किताब पर श’क करना।

यह इतनी ख’त’रना’क बी’मा’री है कि लोगों को दूसरे लोगों के साथ-साथ अपने ऊपर भी श’क होने लगता है। अक्सर न’मा’ज में भी दिल नहीं लगता और हमें ध्यान भी नहीं रहता कि न’मा’ज कब अदा हो चुकी है। हमें अपना ई’मा’न भी ख’त’रे में पड़ा हुआ महसूस होने लगता है। आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि इ’स्ला’म में इनाम बुरे ख्या’लआ’त से नि’जा’त पाने के क्या अ’सू’ल बताए गए हैं।

गौरतलब है कि शै’ता’न हमारे इमान का डा’कू और लु’टे’रा माना जाता है। ह’दी’से पा’क में बताया गया है कि अ’ल्ला’ह ता’ला का शुक्र है कि उसने शै’ता’न के म’क’ड़जा’ल को बस बसे की हद तक मकसूद कर दिया। इससे आगे नहीं बढ़ाया। बु’रे ख’या’ला’त से निजात पाने के लिए जि’स्म बल्कि हम बात कर रहे हैं। वह आप नीचे दी गई वीडियो में जान सकते हैं।

 

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *