‘नीतीश और BJP ईमानदार है इसलिए मात्र चार महीनों में हज़ारों करोड़ के दसियों घोटाले हुए है’

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव हमेशा मेन-स्ट्रीम मीडिया के निशाने पर रहते हैं, उन्हें बहुत आसानी से भ्रष्टाचारी बोल दिया जाता है और बड़े-बड़े मीडिया एंकर उन्हें “चारा-घोटाला” पर घेरते रहते हैं लेकिन कहीं ना कहीं मीडिया दूसरे नेताओं के प्रति कुछ नर्म नज़र आती है. इसी को लेकर लालू ने एक ट्वीट किया है.लालू ने अपने ट्वीट में कहा है कि महागठबंधन की 18 महीने सरकार चली लेकिन एक भी घोटाला नहीं हुआ जबकि नीतीश कुमार और भाजपा की सरकार पिछले चार महीनों में हज़ारों करोड़ के घोटाले सामने आ चुके हैं.

उन्होंने ट्वीट किया,”लालू तथाकथित भ्रष्टाचारी है इसलिए महागठबंधन की 18 महीनों की सरकार में एक भी घोटाला नहीं हुआ। नीतीश और BJP ईमानदार है इसलिए मात्र चार महीनों में हज़ारों करोड़ के दसियों घोटाले हुए है। बताओ, हुए है कि नहीं?”. गौरतलब है कि पिछले चार महीनों में भाजपा-जदयू की सरकार में कई घोटाले सामने आये हैं जिनमें सृजन घोटाला भी शामिल है. इन घोटालों में भाजपा और जदयू के बड़े नेताओं के नाम सामने आये हैं. तमाम बड़े नेताओं के नाम आ जाने के बावजूद भी कुछ मीडिया हाउसेस इसको अपनी बहस का हिस्सा नहीं बना रहे हैं जिससे साफ़ ज़ाहिर है कि इनका भ्रष्टाचार के प्रति दोहरा मापदंड है.

वहीँ अपने को भ्रष्टाचार विरोधी कहने वाले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इसमें से किसी भी घोटाले पर बात नहीं करना चाहते. गौर करने की बात है कि तेजश्वी यादव पर सिर्फ़ आरोप लगने की वजह से ही नीतीश कुमार उनसे नाराज़ थे जबकि अब नीतीश इन नए नए घोटालों पर बात भी नहीं करना चाहते.

Leave a Reply

Your email address will not be published.