भाजपा सरकार में उद्योगपतियों की चाँदी है: अखिलेश यादव

October 1, 2018 by No Comments

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि अगर भारतीय जनता पार्टी की सरकार चलती रही तो देश से लोकतंत्र समाप्त हो जाएगा। भाजपा- जाति-धर्म के नाम पर लोगों का परस्पर सद्भाव तोड़ती है। उसके पीछे राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की विचारधारा है। देश के बड़े उद्योगपति उसके पीछे हैं। भाजपा, राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ, और उद्योगपतियों में तालमेल है।

अखिलेश ने कहा कि भाजपा ने आर्थिक और सामाजिक संकट नए रूप में पैदा कर दिया है। भाजपा ने स्वदेशी आंदोलन के नाम पर विदेशी खासकर चीन के सामान से बाजार पाट दिए हैं। बड़े उद्योगपतियों की चांदी हैं। देश आर्थिक संकट में हैं। जनता जितनी परेशान हो, भाजपा को उतना ही सुख मिलता है। जनता को अब इनसे निजात पाना है।सपा सुप्रिमो ने ये बातें आज पार्टी मुख्यालय में साहू राठौर सम्मेलन में आए हजारों लोगों को सम्बोधित करने के दौरान कही। इसकी अध्यक्षता जगजीवन प्रसाद एम.एल.सी. तथा संचालन श्री हरिओम साहू ने किया। अखिलेश यादव ने गांधी जयंती के पूर्व दिवस पर आयोजित समारोह में उनके चित्र पर माल्यार्पण किया।

उन्होंने गांधी जी को विश्व का महानतम व्यक्ति और अहिंसा का मसीहा बताया। साहू राठौर समाज के तमाम लोगों ने उन्हें स्मृति चिन्ह, अंगवस्त्र और ‘हम आपके और आप हमारे‘ नारे के साथ चारों धर्म के प्रतीक चिन्ह तथा साइकिल चिह्नित झण्डा भेंट किया। रवीन्द्र साहू ने अपनी पुस्तक ‘हैप्पीनेस-सक्सेस‘ भेंट की। सर्व साहू- राठौर समाज कानपुर की स्मारिका का भी उन्होंने विमोचन किया।

अखिलेश यादव ने कहा कि आज दुनिया के कई देशों के मुकाबले भारत कहीं नहीं टिकता है। देश तभी बनेगा जब एक दूसरे का सम्मान होगा। नफरत और दूरी पैदा करने से सद्भाव नहीं आ सकता है। भाजपा ने जातीयता और सांप्रदायिकता फैलाने का काम किया है। उन्होंने कहा विकास का रास्ता समाजवाद ही हो सकता हैं। भाजपा ने सबके रास्ते रोक दिए है।सपा सुप्रिमो ने कहा कि भाजपा ने सबको धोखा देने का काम किया है। उसने विकास अवरूद्ध किया है। पिछड़ों के रास्ते रोक दिए हैं। आरक्षण समाप्त करने की साजिशे हो रही है।


हमारी मांग है कि जातीय जनगणना हो जिससे आबादी के आधार पर सबको हक और सम्मान मिल सके। भाजपा ने साहू-राठौर समाज को अपमानित किया है। आर्थिक बदलाव में उनका परम्परागत काम छिन गया है। साहू समाज को पूरा मान सम्मान दिए जाने का भरोसा दिया। अखिलेश ने कहा कि नोटबंदी और जीएसटी से परिवार और व्यापार टूटे हैं। भाजपा राज में बड़े पूंजी घरानों को ही लाभ मिला है। देश के एक बड़े उद्योगपति का रोजना मुनाफा तीन सौ करोड़ रूपए का है। इतना मुनाफा एक दिन में कितनों का है? पेट्रोल-डीजल मंहगा हो गया है। संसाधन कुछ हाथों में सीमित हो गए हैं। इतनी बेईमानी कभी नहीं हुई थी। उन्होंने कहा कि हमें बुनियादी मुद्दों से नहीं हटना है।

उन्होंने कहा कि देश में गरीबी, बेकारी है। भारत में ही किसान आत्महत्या कर रहा है। प्रधानमंत्री जी दुनिया के तमाम देश घूम आए वहां किसी किसान के आत्महत्या का मामला नहीं सुनाई पड़ा। जनता भाजपा का हिसाब-किताब करेगी। जो दूसरों को दुःख देता है समय आने पर उनको सबक मिलेगा। वक्ताओं ने कहा कि हम सब अखिलेश जी के नेतृत्व को विजयी बनवाएंगे। साहू-राठौर समाज अब भाजपा के बहकावे में नहीं आने वाला है क्योंकि हमारा मान-सम्मान सिर्फ समाजवादी पार्टी में है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *