ईरान में महिला की इस हरकत के बाद, क्या सरकार देगी उन्हें इस नियम में छूट..

January 16, 2018 by No Comments

विजन 2030 के लिए सोशल और इकोनॉमिक रिफॉर्म के तहत सऊदी अरब में महिलाओं को पाबंदियों और नियम-कायदों को ढील दी जा रही है। सउदी के इतिहास में ये पहली बार है जब महिलाओं को किसी खेल को देखने की इजाजत मिली। जिसके चलते पहली बार सऊदी महिलायें जेद्दाह के स्पोर्ट स्टेडियम में फुटबॉल मैच देखने पहुंची।

वहीँ ईरान में भी महिलाओं के स्पोर्ट स्टेडियम में जाकर मैच देखने की खबर सामने आई है। ईरान की राजधानी तेहरान में कुछ महिलायें मैच देखने पहुंची लेकिन मर्दों की भेषभूषा में, नकली दाढ़ी-मूंछ लगाकर। दरअसल इस्‍लामी कानूनों के तहत ईरान में महिलाओं का स्‍टेडियम में मैच देखना प्रतिबंधित है। ईरान में फुटबॉल जैसे खेल को स्टेडियम में देखने जाने के लिए महिलाओं को कठोर रूप से दंडित किया जाता है।

द ऑब्जर्वर्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक, सोशल मीडिया पर ज़हरा नाम की एक महिला ने अपनी कुछ तस्वीरें पोस्ट की हैं जो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही हैं। इन तस्वीरों के जरिये पता चला है कि ज़हरा एक फुटबॉल स्टेडियम में बैठी है। ज़हरा ने स्टेडियम में घुसने के लिए नकली दाढ़ी-मूछ का इस्तेमाल किया और पुरषों के तरह दिखने के लिए नकली भौंह लगाए।

बताया जा रहा है कि ये तस्वीर बीते 29 दिसम्बर तेहरान में ली गई है। ज़हरा स्टेडियम में पर्सेपोलिस एफसी टीम की बहुत बड़ी फैन हैं और उन्ही का मैच देखने आई थी ज़हरा के इस कदम ने देश में एक नई बहस को जन्म दे दिया है। जिसमें इस मुद्दे को उठाया जा रहा है कि क्या एक मुस्लिम देश में महिलाओं को पुरुषों के इस खेल को देखने की खुली छूट दे देनी चाहिए?
ईरान में महिलायें लगातार बदलाव की मांग कर रही हैं। महिलाओं का कहना है कि सरकार अपने कट्टरपंथ को उनपर थोप रही है और उनके मूल अधिकारों का हनन कर रही है। जिसे अब बर्दाश्त नहीं किया ज सकता। ईरान में महिलाओं के बीच सरकार के लिए खासी नाराजगी है।

[get_Network_Id]

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *