इस जगह पर बंद पड़ी मस्जिद को गैर मुस्लिम लोगो ने खुलवाया, सालों बाद सुनाई दी आजान कि आवाज़

December 5, 2018 by No Comments

दोस्तों आपने बहुत बार सुना होगा कि मस्जिदों को हिंदू ने तोड़ दिया और नमाज पढ़ने से मना कर दिया और तरह-तरह की जुल्म जैसा कि बाबरी मस्जिद को गिरा दिया गया और भी बहुत सारी चीज़ें हुई यह सारी चीजें आप जानते हैं लेकिन आज हम आपको कुछ ऐसी बातें बताएंगे इसको सुनकर आप हैरान हो जाएंगे दोस्तों सालों से बंद एक मस्जिद का ताला हिन्दू भाइयों ने खुलवाया और उसमें फिर से नमाज शुरू हो गई.
दोस्तों हमारे देश में आपने मस्जिद के निर्माण मस्जिद की अजान को लेकर कई तरह के जहर उगलता लोगों को देखा होगा दोस्तों लेकिन कुछ नफरत वाले लोगों पर गैर मुस्लिमों ने तमाचा मारा है गुजरात के गैर मुस्लिम लोगों ने पिछले कई साल से बंद पड़ी एक मस्जिद को ना सिर्फ आबाद करवाया बल्कि वह इतनी देर तक रुके जब तक एक बार नमाज नहीं हो गई दोस्तों इन्होंने दिखा दिया कि नफरत मोहब्बत के आगे कुछ भी नहीं होती और इस काम के साथ-साथ इन्होंने हिंदू मुस्लिम एकता का एक बहुत बड़ा पैगाम दिया है.

google


दोस्तों अहमदाबाद के कुल्लू पूरे इलाके में एक बंद पड़ी मस्जिद का ताला हिंदू भाइयों ने खुलवाया है मार्च 2016 में कुल 30 वर्षों के बाद इस मस्जिद में फिर से आवाज गूंजी दोस्तों यह मस्जिद तकरीबन 100 साल पुरानी है और दोस्तों यह मस्जिद हिंदुओं की आबादी में बनी हुई है खास बात यह है कि इस मस्जिद के आसपास जो मंदिर है एक भगवान राम का मंदिर और एक भगवान हनुमान का मंदिर.
दोस्तों आपको बता दें कि सन् 1984 में सांप्रदायिक दंगा हुआ था जिसमें कई हिंदू और मुसलमानों का खून बहा था फिर उसके बाद साल 1993 में बाबरी मस्जिद ढाल जाने का काम हुआ जिससे दंगे और बड़े हैं उसके बाद 2002 के दंगे में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने मस्जिद खुलवाने का प्रयास किया.

google


जिसमें भाईचारे की खातिर हिंदू भाइयों ने मुसलमानों का समर्थन किया और ना सिर्फ मस्जिद खुलवाने में बल्कि उस की तामीर करवाने में भी उन्होंने मदद की और तब तक खड़े रहें जब तक उसमें एक बार नमाज नहीं हो गई दोस्तों यह हिंदू-मुस्लिम एकता का एक बहुत बड़ा संदेश है उन लोगों के लिए जो हमेशा नफरत की आग उगलते रहते हैं.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *