शिवराज सिंह के गढ़ में उन्हें चुनौती दे रहा है कांग्रेस का दिग्गज

November 26, 2018 by No Comments

भोपाल: आगामी मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में जिस सीट पर सबसे ज़्यादा नजरें टिकी रहने की उम्मीद है वह है बुधनी की। इसका कारण है यहाँ से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का चुनावी मैदान मे उतरना। दूसरी और कांग्रेस ने यहाँ से पूर्व केंद्रीय राज्यमंत्री एंव पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव को चुनावी मैदान में उतारा हैं।जिनको एक मज़बूत उम्मीदवार माना जा रहा है। बुधनी विधानसभा क्षेत्र में कुल 245049 मतदाता हैं, जिसमें एससी-एसटी लगभग 45000, किरार, जिससे शिवराज सिंह चौहान आते हैं। इसके अलावा लगभग 25000 यादव और 41000 रघुवंशी लगभग हैं। बुधनी विधानसभा में ओबीसी निर्णायक हैं।जिससे अरुण यादव की स्थिति मज़बूत हो जाती है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के सामने हारने पर भी अरुण का राजनीतिक कद बढ़ेगा,जबकि जीतने पर मुख्यमंत्री की कुर्सी पर भी उनकी स्वभाविक रुप से दावेदारी होगी।चुनाव प्रचार के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने भाषण में अरुण यादव को राज्य का भविष्य बताया है। इसके बाद से राजनीतिक गलियारों मे भी यह चर्चा है कि अगर मध्यप्रदेश मे उलट फ़ेर होता है और कांग्रेस सत्ता मे आती है तो अरुण यादव भी मुख्यमंत्री पद के दावेदार हो सकते हैं। टिकट मिलने के बाद से अरुण यादव बुधनी में कार्यकर्ताओं के साथ ही हैं। कोई उनको माता की चुनरी ओढ़ा रहा है, तो कोई उनको तिलक लगा रहा है। हालांकि विपक्षी दल उनको पैराशूट उम्मीदवार कह रहै हैं , क्योंकि अरुण यादल मालवा से आते हैं। जो इनके ख़िलाफ़ भी जा सकता है।

अरुण यादव ऐसा नहीं मानते हैं।उनका कहना है कि वह भ्रष्टाचार, लॉ एंड ऑर्डर, सैंड माफिया, जैसे मुद्दों के साथ जनता के बीच जायेंगे। लेकिन अरुण यादव की राह इतनी आसान भी न होगी। बूधनी शिवराज सिंह चोहान का गढ़ है। यहाँ उनके लिए उनकी पत्नी साधना सिंह, और बेटा कार्तिकेय मोर्चा संभाले हुए है। बुधनी का जैत शिवराज सिंह का पैतृक गांव है, इस सीट से 6 बार बीजेपी तो 5 बार कांग्रेस को जीत मिली है। शिवराज 2006 से यहां जीत रहे हैं ।पहली बार 1990 में लड़े थे।वैसे भी किसी भी राज्य के मुख्यमंत्री को हराना आसान काम नहीं होता है। और फ़िर शिवराज सिंह चोहान तो राज्य मे काफ़ी पोपुलर भी हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *