खूबसूरत पाकिस्तानी महिला को अपने गेस्ट हाउस में क्यों बुलाते है कैप्टेन अमरिंदर सिंह?,अब खुला राज़

पाकिस्तानी महिला पत्रकार अरूसा आलम को लेकर दो दिन से पंजाब की राजनीति गरमाई हुई है.दरअसल, अरूसा आलम कैप्टन अमरिंदर सिंह की महिला मित्र हैं.पाकिस्तानी पत्रकार अरूसा से कैप्टन की वर्ष 2006 में जालंधर में पंजाब प्रेस क्लब के उद्घाटन समारोह के दौरान मुलाकात हुई थी.वह जालंधर प्रेस क्लब के आमंत्रण पर यहां आई थीं.

इसके बाद कैप्टन और अरूसा की दोस्ती बरकरार रही.वैसे मीडिया रिपोर्टों के अनुसार कैप्टन की अरूसा से पहली मुलाकात 2004 में पाकिस्तान दौरे के दौरान हुई थी.यह दोस्ती वर्ष 2006 में जालंधर में मुलाकात के बाद और प्रगाढ़ हो गई.

वर्ष 2006 में अरूसा से मुलाकात के बात कैप्टन अमरिंदर सिंह ने उसके वी’जा का अनुरो’ध किया और वह कई बार भारत आई. इस पर जब वि’रोधियों ने नि’शाना साधा तो कैप्टन ने कहा कि अरूसा के भारत आने की क्लीयरेंस भारतीय उच्चायोग ने दी है.

यूपीए सरकार और एनडीए सरकार दोनों के कार्यकाल में भारत आई हैं.अरूसा आलम कैप्टन अमरिंदर सिंह को महाराज साहब कहती हैं. वर्ष 2017 में जब कैप्टन अमरिंदर सिंह मुख्यमंत्री बने थे तो शपथ ग्रहण समारोह में अरूसा आलम वीवीआइपी सीट पर बैठी नजर आई थी.

मीडिया के कई रिपोर्ट के मुताबिक अमरिंदर और अरुसा दोनों लिव इन रिलेशन में है.अरुसा को कुछ महीने पहले पंजाब में पोस्टिंग में दखल का आ’रो’प भी लगा है कहा जाता है वो महंगे तोहफे और पैसे लेकर राज्य में पोस्टिंग भी करवाती रही है,जिस तरह ह’नी ट्रैप के मामले आये है.

अरुसा पर भी आईएसआई की एजंट होने का भी शक है.अरूसा के पिता समाजवादी नेता रहे हैं वर्ष 1970 के दौरान उनके पिता का रा’ज’नीति में अच्छा दखल था.अरूसा की मां की सै’न्य क्षेत्र में रुचि थी, इसीलिए अरूसा ने रिपोर्टिंग के लिए र’क्षा विषय को चुना.

Image

Leave a Reply

Your email address will not be published.