जब पूरी दुनिया तमाशा देख रही है तब एरदोगन ने रोहिंग्या मुसलमानों के लिए किया ये एलान

अंकारा: म्यांमार के राखीने प्रान्त में रोहिंग्या मुस्लिमो के सामूहिक नरसंहार की मीडिया रिपोर्टस के बाद रोहिंग्या मुसलमान पलायन को मजबूर है अब इसको लेकर तुर्की ने ब्यान दिया है.

तुर्की के विदेश मंत्री Mevlüt Çavusoglu ने बांग्लादेश से अपील की है कि वह रोहिंग्या मुसलमानों के लिये अपनी सीमाओं को खोल दे, बांग्लादेश सरकार उन्हें पनाह दे, सारा खर्चा हम उठाएँगे. तुर्की विदेश मंत्री के इस ब्यान से रोहिंग्या मुस्लिमो के लिए राहत की बात मानी जा रही है ऐसा माना जा रहा है अब बांग्लादेश सरकार रोहिंग्या मुस्लिमो को पनाह दे सकता है.
बता दे,बांग्लादेश और म्यांमार की सीमा पर लाखो लोग फसे है, बांग्लादेश ने रोहिंग्या मुस्लिमों के अपने देश में घुसने पर रोक लगा दी है. हालांकि, संयुक्त राष्ट्र ने ढाका से कहा है कि वह रोहिंग्या मुस्लिमों को अपने यहां शरण दे.

इस मामले में संयुक्त राष्ट्र रिफ्यूजी एजेंसी ने बताया कि बीते 3 दिनों में 5200 लोग म्यांमारे से बांग्लादेश में प्रवेश करने में कामयाब रहे हैं लेकिन अधिकांश लोग अभी भी सीमा पर फंसे हैं.
मौजूदा समय में करीब 4 लाख रोहिंग्या बांग्लादेश के शरणार्थी कैंपों में रह रहे हैं इसलिए ढाका सरकार अब और शरणार्थियों को जगह नहीं दे रही है.
वही म्यांमार में सुरक्षा बल रोहिंग्या मुस्लिमो पर हमले कर रहे है इसको लेकर तुर्की,ईरान के बाद इंडोनेशिया ने भी म्यांमार की तीखी आलोचना की ,इंडोनेशिया ने अपने विदेश मंत्री विदेश मंत्री रेंटो मारसूदी को इन हमलों को रुकवाने के लिए म्यांमार की सरकार से बातचीत करने यांगून भेजा है.
उन्होंने म्यांमार के रोहिंग्या मुसलमानों तक मानवताप्रेमी सहायताएं पहुंचाए जाने की आवश्यकता पर बल दिया है.अब म्यांमार में चरमपंथी बौद्ध और सुरक्षा बलों के हमले में चार सौ से अधिक रोहिंग्या मुस्लिमो की जाने जा चुकी है.
विश्व के दवाब के बावुजूद म्यांमार ने रोहिंग्या मुस्लिमो को बर्मा का नागरिक ही मानने से इनकार करते हुए तमाम सुविधाओ से वंचित कर रखा है जिसके वज़ह से रोहिंग्या मुस्लिमो को दुनिया के अन्य देशो में शरण लेनी पड़ रही है.

साभार: www.headline24hindi.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.