जमाते इस्लामी के संघठन में बड़ा बदलाव,अब ये व्यक्ति बने राष्ट्रिय अध्यक्ष

April 7, 2019 by No Comments

भारतीय मुस्लिमो में दो संघठन की लोकप्रियता बहुत अधिक है,इन संघठन का नाम जमाते उलेमा ऐ हिन्द और जमाते इस्लामी है,दोनों धार्मिक संघठन है.और पुरे देश में इनका संघठन है.जमाते इस्लामी ने अपने नये अमीर को चुन लिया है.जमाते इस्लामी ने अपने नये अमीर को निर्वाचन द्वारा चुना है.
जमात-ए-इस्लामी हिंद की आधिकारिक वेबसाइट के अनुसार,सैयद सआदतुल्ला हुसैनी को 2019-2023 के अपना राष्ट्रीय अध्यक्ष चुना गया है.
मजलिस ई नुमेनदगन (प्रतिनिधि परिषद),संगठन के 157 सदस्यों के सबसे शक्तिशाली निकाय,दो दिन के व्यस्त विचार-विमर्श के बाद अपनी बैठक में उन्हें जमात ए इस्लामिया हिंद (JIH) के अध्यक्ष (अमीर) के रूप में चुना गया है.उन्होंने मौलाना जलालुद्दीन उमरी का स्थान लिया.

1973 में जन्मे सदातुल्ला हुसैनी ने इलेक्ट्रॉनिक्स और दूरसंचार इंजीनियरिंग में पढाई की है इससे पहले वह JIH के उपाध्यक्ष और केंद्रीय सलाहकार परिषद के सदस्य थे.उन्होंने लगातार दो बार राष्ट्रीय अध्यक्ष के रूप में छात्र इस्लामी संगठन (एसआईओ) का नेतृत्व किया.उन्होंने 12 पुस्तकें लिखी हैं और 200 से अधिक लेख उर्दू और अंग्रेजी में लिखे हैं.
हुसैनी नई दिल्ली स्थित बोर्ड ऑफ ह्यूमन वेलफेयर फाउंडेशनडायरेक्टर सेंटर फॉर स्टडी एंड रिसर्च,नई दिल्ली,सलाहकार बोर्ड जमीअतुल फलाह आजमगढ़ के सदस्य भी रहे हैं.जमाते इस्लामी की मौलाना अबू आला मौदूदी ने स्थापना की है.

हलाकि देश बटवारे के बाद जमाते इस्लामी के संथापक मौलाना अबू आला पाकिस्तान में चले गये लेकिन भारत में जमाते इस्लामी ने पाकिस्तान के संघठन से दुरी बना कर भारत में मज़हबी प्रचार करने लगा.जमाते इस्लामी ने मज़हबी प्रचार के अलावा मदरसे,विद्यालय और अस्तपताल भी स्थापित किये है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *