जामिया मिलिया के पहले VC और महान स्वतंत्रता सेनानी हकीम अजमल ख़ान के बारे में…

जन्म: 11 फ़रवरी 1868
मृत्यु: 29 दिसम्बर, 1927

ये दुर्भाग्य ही है कि हम कुछ स्वतंत्रता सेनानियों को लगभग भुला सा चुके हैं. ये वो लोग हैं जिन्होंने देश के लिए अपनी पूरी ज़िन्दगी क़ुर्बान कर दी. सिर्फ़ देश की स्वतंत्रता के लिए ही नहीं लड़े बल्कि देश निर्माण में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभायी. ऐसे ही कई नामों में से एक हैं हकीम अजमल ख़ान.

वो महान स्वतंत्रता सेनानी तो थे ही, इसके अतिरिक्त उन्होंने देश में यूनानी चिकित्सा के क्षेत्र में उन्होंने कमाल का काम किया. गांधी जी के सहयोगी अजमल भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के पांचवे मुस्लिम अध्यक्ष चुने गए थे. उन्होने असहयोग आन्दोलन में भाग लिया था, खिलाफत आन्दोलन का नेतृत्व किया था| वो जामिया मिलिया इस्लामिया के पहले कुलपति भी थे और अपनी मौत तक इस पद पर बने रहे| अजमल ख़ान ऐसे एकमात्र व्यक्ति भी हैं जिन्हें भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस, मुस्लिम लीग और ऑल इंडिया खिलाफत कमेटी का अध्यक्ष बनने का गौरव प्राप्त हुआ है|

Leave a Reply

Your email address will not be published.