जन्नत में ये 6 चीज़े नही होंगी,हर मुस्लिम को ज़रूर पढ़ना चाहिए

February 26, 2019 by No Comments

जन्नत में सब कुछ होगा मगर छ चीज़ें ना होंगी।मौ’त ना होगी,नींद ना होगी,हसद ना होगा,नजासत ना होगी, बुढ़ापा ना होगा,दाढ़ी ना होगी बल्कि बग़ैर दाढ़ी के जवान होंगे.हज़रत अबदुल्लाह बिन उम्र रज़ी अल्लाहु अन्हु ने बयान किया कि अल्लाह के रसूल सलल्लाहु अलैहि वसल्लम ने फ़रमाया जब अहले जन्नत जन्नत में चले जाऐंगे और अहल दोज़ख़ दोज़ख़ में चले जाऐंगे तो मौत को लाया जाएगा और उसे जन्नत और दोज़ख़ के दरमयान रखकर ज़बह कर दिया जाएगा।
फिर एक आवाज़ देने वाला आवाज़ देगा कि ए जन्नत वालो!तुम्हें अब मौत नहीं आएगी और ए दोज़ख़ वालो!तुम्हें भी अब मौत नहीं आएगी।इस बात से जन्नती और ज़्यादा ख़ुश होजाएंगे और जहन्नुमी और ज़्यादा ग़मगीं हो जाऐंगे।दूसरी चीज़:जन्नत में नींद ना होगी।ये बात भी मुतअद्दिद सही अहादीस से साबित है,क्योंकि नींद को मौत का भाई कहा गया है तो दोनों का यकसाँ हुक्म होगा।

दूसरी अहादीस में वाज़िह अलफ़ाज़ भी आए हैं।एक आदमी ने अल्लाह के रसूल से सवाल किया कि जन्नत वाले सोएँगे? तो आपने फ़रमाया नींद मौत का भाई है और अहल जन्नत नहीं सोएँगे।तीसरी चीज़: जन्नत में हसद ना होगा। ये बात भी क़ुरआन व हदीस से साबित है कि अहले जन्नत के दिलों में दुनियावी बुग़ज़ व हसद ना होगा अल्लाह तआला उसे उनके सीनों से निकाल फेंकेगा।अल्लाह का फ़रमान है
तर्जुमा:उनके दिलों में जो कुछ रंजिश व कीना था हम सब कुछ निकाल देंग,वो भाई भाई बने हुए एक दूसरे के आमने सामने तख़्तों पर बैठे होंगे।चौथी चीज़ : जन्नत में नजासत नहीं होगी।ये बात भी बिलकुल सही है।इमाम बुख़ारी रहिमा अल्लाह ने अपनी सही के अंदर एक बाब बाँधा है बाब जन्नत का बयान और ये बयान कि जन्नत पैदा हो चुकी है( इस बाब के तहत ये हदीस दर्ज करते हैं जो जन्नत में पेशाब व पाख़ाना और किसी किस्म की नजासत ना होने की दलील है।

तर्जुमा:अबूहुरैरा रज़ी अल्लाहु अन्हु ने बयान किया कि अल्लाह के रसूल सल्लाहु अलैहि वसल्लम ने फ़रमाया,जन्नत में दाख़िल होने वाले सबसे पहले गिरोह के चेहरे ऐसे रोशन होंगे जैसे चौदहवीं का चांद रोशन होता है।ना इस में थूकेंगे ना उनकी नाक से कोई आलाईश आएगी और ना पेशाब,पाएखाना करेंगे।उनके बर्तन सोने के होंगे।कंघे सोने चांदी के होंगे।अंगीठीयों का ईंधन ऊद का होगा।
पसीना मशक जैसा ख़ुशबूदार होगा और हर शख़्स की दो बीवीयां होंगी।जिनका हुस्न ऐसा होगा कि पिंडुलीयों का गूदा गोश्त के ऊपर से दिखाए देगी।ना जन्नतियों में आपस में कोई इख़तिलाफ़ होगा और ना बुग़ज़-ओ-इनाद,उनके दिल एक होंगे और वो सुबह-ओ-शाम अल्लाह पाक की तस्बीह-ओ-तहलील में मशग़ूल रहा करेंगे।
पांचवें चीज़:जन्नत में बुढ़ापा नहीं होगा क्योंकि सभी को तीस या तेंतीस साल का कुड़ेल जवान करके जन्नत में दाख़िल किया जाएगा।मआज़ बिन जबल रज़ी अल्लाहु अन्हु से रिवायत है कि नबी अकरम ने फ़रमाया..तर्जुमा:जन्नती जन्नत में इस हाल में दाख़िल होंगे कि उनके जिस्म पर बाल नहीं होंगे,वो अम्रद होंगे, सर्मगीं आँखों वाले होंगे और तीस या तेंतीस साल के होंगे

पवित्र कुरान


इसी तरह ये रिवायत भी देखें-
तर्जुमा:एक बढ़िया अल्लाह के रसूल सलल्लाहु अलैहि वसल्लम की ख़िदमत में हाज़िर हुई और अर्ज़ क्या या रसूल अल्लाह!अल्लाह ताला से दुआ फ़रमाएं कि वो मुझे जन्नत में दाख़िल कर दे।आपने फ़रमाया: ए फ़ुलां की माँ जन्नत में कोई बढ़िया दाख़िल नहीं होगी (रावी) बयान करते हैं कि (ये जवाब सन कर बढ़िया) रोने लगी ये गुमान करके कि वो जन्नत में दाख़िल नहीं हो सकती।
जब उन्हें देखा तो बयान करने का मक़सद वाज़िह किया कि कोई औरत बुढ़िया होने की हालत में जन्नत में दाख़िल नहीं होगी बल्कि उसे दूसरी तख़लीक़ करेंगे और फिर जवान करके इस में दाख़िल होगी। और आपने अल्लाह के इस क़ौल की तिलावत की हमने उनकी (बीवीयों को) खासतौर पर बनाया है और हमने उन्हें कुंवारियां बना दिया है,मुहब्बत वालियाँ और हमउमर हैं।
छुट्टी चीज़:जन्नत में दाढ़ी नहीं होगी ये बात भी सही है ताकि जन्नती के हुस्न जमाल में मज़ीद करके ख़ूबसूरती पैदा हो जाएगी।दुनिया में रसूल अल्लाह की सुन्नत है और इस का हुक्म वजूब का है जो दुनिया में रसूल अल्लाह के इस वाजिबी हुक्म पर अमल करेगा और सही ईमान वाला होगा तो अल्लाह की रहमत से जन्नत में दाख़िल होगा और वहां उसे जवान बना दिया जाएगा इस तरह कि जिस्म और चेहरे से बाल हटा दिया जाएगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *