जदयू में दरार: नीतीश राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से हटाये गए..

पटना: बिहार की सत्ता पे क़ाबिज़ जदयू में दरार लगातार बढ़ती जा रही है. शरद यादव गुट ने इस बार बड़ा क़दम उठाते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार को उनके पद से बर्ख़ास्त कर दिया है. नीतीश कुमार के स्थान पर कार्यकारी अध्यक्ष जदयू के गुजरात से विधायक छोटू भाई वसावा को बनाया गया है.

असली जदयू का दावा करते हुए शरद यादव गुट ने दावा किया कि 19 राज्य इकाइयों के अध्यक्षों का समर्थन प्राप्त है. इस विशेष बैठक में चुनाव विवाद समिति भी गठित की गयी है जिसकी अध्यक्षता जावेद रज़ा कर रहे हैं. ये समिति चुनाव आयोग में शरद यादव गुट का पक्ष रखेगी.

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की उस वक़्त से ही तीख़ी आलोचना हो रही है जबसे उन्होंने राजद और कांग्रेस से महागठबंधन तोडा है. महागठबंधन तोड़ने के कुछ ही देर बाद नीतीश ने भाजपा के साथ मिलकर सरकार बना ली. राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव और उनके बेटे तेजश्वी यादव ने इसको लेकर आरोप लगाया है कि सृजन घोटाले में लिप्त होने की वजह से ही नीतीश को पुनः भाजपा के साथ जाना पड़ा. महागठबंधन तोड़ने के बाद नीतीश कुमार को अपनी ही पार्टी के भीतर विरोध का सामना करना पड़ा है. शरद यादव ने अपने पुराने तेवर दिखाते हुए पार्टी में अपना गुट मज़बूत किया है जबकि महागठबंधन तोड़ने से नीतीश का पक्ष बहुत कमज़ोर हुआ है.

कुछ अन्य ख़बरें, एक नज़र में..
1. भारत ने पहले एकदिवसीय मैच में ऑस्ट्रेलिया को 26 रन से हरा दिया है. चेन्नई में खेले गए इस मैच में भारत ने 50 ओवर में 281 रन बनाए थे. बारिश की वजह से मैच को 21 ओवर का कर दिया गया था और लक्ष्य 164 रन का कर दिया गया था.

2. पूर्व भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी वीरेंद्र सहवाग ने कहा,” देखिये मैं कोच इसलिए नहीं बन पाया क्यूंकि जो भी कोच चुन रहे थे उनसे मेरा कोई सेटिंग नहीं था”. अपुष्ट ख़बरों के मुताबिक़ जब सौरव गांगुली से इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि सहवाग बोलने में बेवकूफ़ी कर जाते हैं. हालाँकि बाद में गांगुली ने एक ट्वीट पोस्ट कर इस बात का खंडन किया है कि उन्होंने ऐसा कोई बयान सहवाग के ऊपर दिया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.