विधानसभा में माइक्रोफ़ोन बंद करने से मेरी आवाज़ बंद नहीं होगी: जिग्नेश मेवाणी

February 26, 2018 by No Comments

दलित नेता और गुजरात के वडगाम से विधायक जिनेश मेवाणी ने गुजरात की भाजपा सरकार पर गंभीर आरोप लगाए हैं. उन्होंने कहा है कि विधानसभा में उनकी आवाज़ को रोक दिया गया. उन्होंने ट्वीट करके कहा कि विधानसभा में माइक्रोफ़ोन बंद करने से मेरी आवाज़ नहीं रुक सकती. उन्होंने ट्वीट करके कहा,”गुजरात विधानसभा में माइक्रोफोन बंद करने से मेरी आवाज़ रुक नहीं जायेगी, यह सरकार अच्छे से समझ ले क्यूंकि मेरी आवाज़ इन्कलाब जिंदाबाद की आवाज़ हैं जिसे दुनिया की कोई हुकूमत रोक नहीं सकती, जनता के हित में हम सड़कों पर भी हल्ला बोलेंगे और सदन में भी बोलेंगे ! चुप कतई नहीं रहेंगे !”

जिग्नेश ने भाजपा शासन में देश के लोकतंत्र पर सवाल खड़े किये हैं की इस देश में हर किसी को बोलने की आज़ादी है, अपने विचार रखने की आज़ादी है। लेकिन एक विधायक होने के नाते मुझे विधानसभा में नहीं बोलने दिया जा रहा, तो इस देश के आम नागरिक की बात कैसे का कर सकते हैं ?उन्होंने कहा,”वाह क्या लोकतंत्र है। जिन्होंने आत्मदाह किया वह भानु भाई वनकर मामले में विधानसभा में बोलने को ख़डा हुवा और सिर्फ 2 लाइन बोला कि स्पीकर महोदय ने हमारा माइक बंध करवा दिया और हाउस को एडजर्न कर दिया। विधानसभा के बाहर हमे सुनते नही और जीतकर अंदर गया तो बोलने नही देते।”

गौरतलब है कि दलित नेता जिग्नेश मेवाणी लगातार भाजपा पर हमला बोलते रहे हैं. वो गुजरात से निर्दलीय विधायक हैं. युवा नेता जिग्नेश को पूरे भारत से समर्थन मिलता रहा है.ऐसा माना जा रहा है कि 2019 के लोकसभा चुनाव में उनकी अहम् भूमिका होगी.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *