विवादों में आई मशहूर लेखिका ‘कमला दास’ पर बनी फिल्म, ‘लव-जिहाद’ को बताया जा रहा वजह

February 1, 2018 by No Comments

भारत में हाल ही के कुछ फिल्मों का विरोध होना एक ट्रेंड की तरह हो गया है। देशभर में संजय लीला भंसाली द्वारा निर्मित पद्मावत का विरोध होने के चलते फिल्म की रिलीज़ को डेढ़ महीने बाद सिनेमा में पहुंची। इससे पहले बॉलीवुड फिल्म ‘लिपस्टिक अंडर माय बुर्का’ को भारत में रिलीज़ होने के लिए महीनों का इंतज़ार करना पड़ा। अब जिस फिल्म का विरोध किया जा रहा है उसका नाम है ‘आमी’, जोकि फेमस लेखक कमला दास की बायोपिक है।

जिसका निर्देशन डायरेक्टर कमल ने किया है और मंजू वारियर फिल्म में कमला दस का किरदार निभा रही हैं। फिल्म में पहले लीड रोल में बॉलीवुड एक्ट्रेस विद्या बालन नजर आने वाली थीं लेकिन कुछ कारणों से उन्होंने फिल्म करने से इंकार कर दिया। दरअसल विद्या ने के लिए तैयारियां भी शुरू कर दी थी, फिर डायरेक्टर के साथ हुए मतभेद के बाद उन्होंने इस फिल्म से कन्नी काट ली।

इस फिल्म का विरोध इस लिए किया जा रहा है, क्यूंकि कहा जा रहा है कि इस फिल्म में लव-जिहाद का समर्थन किया गया है। जिसके चलते केरल हाई कोर्ट में अर्जी दायर कर इसपर रोक लगाने की मांग की गई है। हाई कोर्ट के वकील केपी रामाचंद्रन का कहना है कि कमला दस द्वारा इस्लाम कबूल कर लेने की वजह से केरल में लव जिहाद की शुरुआत हुई थी।

जिसका राज्य में काफी गहरा प्रभाव डाला, जिसका असर आज भी केरल के समाज में देखने को मिलता है।  इस अर्जी में कहा है कि फिल्म को लव-जिहाद के सपोर्ट में बनाया गया है और इसमें लव जिहाद के मुद्दे का जानबूझकर महिमामंडन किया गया है।
केरल हाई कोर्ट ने सेंसर बोर्ड को फिलहाल सर्टिफिकेट जारी करने से मना कर दिया है। इसके साथ कोर्ट ने सेंसर बोर्ड को ये मिरदेश भी दिए हैं कि वह इस बात पर भी गौर करें कि फिल्म में कलमा दास की जिंदगी को ठीक तरह से फिल्माया गया है या नहीं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *