कश्मीर की पत्थरबाज लड़कियों को पकड़कर सेना क्या करती है इनके साथ, जानें बड़ा सच

December 22, 2018 by No Comments

हैलो दोस्तो आज हम बात करेंगे कश्मीर में हो रही लगातार पत्थर बाज़ी के बारे मे।कश्मीर में पत्थर बाज़ी और खास कर पत्थर बाज़ लडकिया सेना के लिए सरदर्द बन चुके हैं।सेना ने कई बार इनसे गुज़ारिश की लेकिन इस लोगो ने सेना की एक भी अपील नहीं सुनी।सेना चाह कर भी इनके साथ सख्ती नहीं कर पा रही है.
लेकिन जब मामला हद से बाहर हो जाता है तो क्या आपको पता है कि सेना इन लड़कियों के साथ क्या करती है? आइये जानते हैं इस बारे मे।कश्मीर के पुलवामा में सेना की कार्यवाही एक बार फिर पत्थर बाज़ी का सबब बनी।सेना की इस कार्यवाही का विरोध खुद महबूबा मुफ्ती और उमर फारुख ने किया।जबकि सेना अपनी इस कार्यवाही से पीछे हटने को तैयार नहीं है.

google


सेना का कहना है कि उनका ये कदम बिल्कुल सही है।एक समय ऐसा था जब सेना पर पत्थर चलाने वाले बस लड़के हुआ करते थे लेकिन अब तो हालात इतने बिगड़ चुके हैं कि लड़कियों ने भी पथराव करना शुरू कर दिया है और ये लड़कियां स्कूल और कॉलेज की होती हैं।जिनके किलाफ कार्यवाही सेना चाह कर भी नही कर सकती है।और न ही किसी तरह की कोई सख्ती कर सकती है.
सेना बस उनके परिवार वालो को बुला कर उनके सामने उन लड़कियों की काउंसलिंग करती है और उनके परिवार वालो को समझाती है साथ ही उन लड़कियों को पढ़ लिख कर आगे बढ़ने की सलाह देकर छोड़ दिया जाता है।दोस्तों कश्मीर की सेना इस पत्थर बाज़ लड़कियों से बहुत परेशान हो चुकी है लेकिन चाह कर भी इसका कोई पुख्ता हल नहीं निकाल पा रही है.

google


लड़कियो की पत्थरबाजी को बर्दाश्त करना उनकी मजबूरी हो चुकी है यह तक कि अब उन लड़कियों को सेना द्वारा पकड़े जाने का भी डर नहीं है क्योंकि वह जानती है कि पकड़े जाने पर भी उनके साथ कोई सख्ती नहीं होगी ओर शायद यही वजह है कि कश्मीर में पत्थर बाज़ी अक्सर चर्चा का विषय बनी रहती है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *