‘मोदी लहर’ के चक्कर में अगर भाजपा रही तो कर्णाटक में एक भी सीट नहीं मिलेगी: कुमारस्वामी

November 6, 2018 by No Comments

बेंगलुरु: कर्णाटक में तीन लोकसभा और दो विधानसभा सीटों के उपचुनाव में भाजपा को हार मिली है, जेडीएस-कांग्रेस गठबंधन को भेदने में भाजपा नाकाम रही है. 3 लोकसभा सीटों में से उसे 2 में हार मिली है और किसी तरह शिवमोगा सीट बचाने में भाजपा कामयाब रही है वहीं दो विधानसभा सीटों पर भी भाजपा को हार ही मिली है. कर्णाटक के भाजपा नेता इस हार को ज़्यादा संजीदगी से नहीं लेने की बात कह रहे हैं. उनका मानना है कि उपचुनाव लोकल मुद्दों पर लड़ा जाता है और लोकसभा चुनाव में ‘मोदी फैक्टर’ काम करेगा.

भाजपा के इस सफ़ाई वाले बयान पर कर्णाटक के मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने बयान दिया है. कुमारस्वामी ने कहा है कि जेडीएस और कांग्रेस के साथ आ जाने से सेक्युलर वोट नहीं बंटा. उन्होंने कहा कि भाजपा को इसी बात का फ़ायदा मिलता रहा है. कुमारस्वामी ने एक चैनल से बात करते हुए कहा कि भाजपा अगर ये सोचती है कि अगले लोकसभा चुनाव में जनता मोदी लहर के नाम पर भाजपा को वोट देगी तो वो ये समझे कि आने वाले लोकसभा चुनाव में कर्णाटक से भाजपा को एक भी सीट नहीं मिलेगी.

कर्नाटक उपचुनाव के नतीजे भाजपा के लिए कड़ा सबक़ माने जा रहे हैं. कांग्रेस और जेडीएस गठबंधन जिस तरह से मज़बूत है, ऐसे में भाजपा के लिए आने वाले लोकसभा चुनाव टेढ़ी खीर होने वाले हैं। 3 लोकसभा और दो विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में भाजपा महज़ एक ही सीट पर जीत सकी है जबकि बाक़ी की चार सीटें जेडीएस-कांग्रेस को हासिल हुई हैं। अंतिम नतीजों की बात करें तो बेल्लारी सीट से कांग्रेस के वीएस उरगप्पा 5 लाख 54 हजार 139 वोट से जीते हैं जबकि जामखंडी से कांग्रेस के आनंद न्यामागौड़ा 97 हजार 17 वोट से जीते हैं. मांड्या से जेडीएस के शिवराम गौड़ा ने 5 लाख 53 हजार 374 वोट की बड़ी जीत हासिल की है जबकि रामनगर से जेडीएस की अनिता कुमारस्वामी ने 1 लाख 25 हजार 43 वोट से अपना चुनाव जीता. शिमोगा से भाजपा के बीवाय राघवेंद्र जीत हासिल करने में सफ़ल रहे हैं. उन्हें 52हजार 148 वोटों से जीत मिली. कांग्रेस-जेडीएस ने 5 में से 4 सीट पर जीत हासिल करके साबित कर दिया है कि वो यहाँ मज़बूत हैं. उपचुनाव में कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन की जीत के बाद कर्णाटक के मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने कहा कि ये चुनाव पहला कदम था. हमारा लक्ष्य है कि आने वाले चुनाव में कांग्रेस के साथ मिलकर सभी 28 सीटों को जीतना.उन्होंने कहा कि लोगों ने हमारे ऊपर भरोसा जताया है लेकिन इस जीत पर हमें अहंकार नहीं है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *