कुर्दिस्तान रेफ़रेंडम पर ईरान और तुर्की ने जतायी चिंता; ईराक़ के हिस्से में नया मुल्क बनाने की कोशिश

तुर्की के राष्ट्रपति रजब तय्यिप एरदोअन ने ईराक़ के कुर्द इलाक़े में होने जा रहे रेफ़रेंडम पर ईरानी राष्ट्रपति हसन रूहानी से बात की. इस बातचीत में दोनों नेताओं ने कुर्दिस्तान रीजनल गवर्नमेंट(KRG) के रेफ़रेंडम पर चिंता ज़ाहिर की. तुर्की के राष्ट्रपति ऑफिस से जारी बयान में कहा गया है,”दोनों नेताओं ने माना कि अगर इस रेफ़रेंडम को कैंसिल नहीं किया जाता तो इलाक़े में अराजकता फैल जायेगी”.

दोनों नेताओं ने ईराक़ी संप्रभुता को महत्वपूर्ण माना. सोमवार के रोज़ होने वाले इस वोट पर कई देशों ने चिंता जताई है.

रेफ़रेंडम से बनेगा नया मुल्क
KRG द्वारा कराये जा रहे इस रेफ़रेंडम में अगर “यस” वोट हासिल होता है तो ईराक़ का कुर्द हिस्सा एक नया देश बन सकता है. KRG नेता बरज़ानी ने पहले ही कहा है कि अगर “यस” आता है तो 48 घंटे के भीतर कुर्दिश ईराक़ एक नया देश होगा.

ईराक़ी सरकार ने इसकी सख्त निंदा की है और कहा है कि अगर इसमें हिंसा होती है तो उसे सैन्य कार्यवाही करनी होगी. संयुक्त राष्ट्र, संयुक्त राज्य अमरीका, तुर्की, ईरान समेत कई देशों ने KRG से इस रेफ़रेंडम को रद्द करने की मांग की है.

कुछ अन्य ख़बरें, एक नज़र में..
1. जर्मनी के आम चुनाव में चांसलर एंजेला मर्केल की पार्टी CDU इस चुनाव में जीत की ओर बढ़ रही है. एग्जिट पोल के मुताबिक़ मर्केल की पार्टी के वोट प्रतिशत में भारी कमी आयी है.

2. ब्राज़ील में अदालत के एक फ़ैसले को लेकर विवाद शुरू हो गया है. अदालत के एक फ़ैसले के मुताबिक़ होमोसेक्सुअलिटी एक बीमारी है और उसका इलाज साइकोलोजिस्ट के ज़रिये कराया जाना चाहिए. इस फ़ैसले के ख़िलाफ़ ब्राज़ील में कई जगह सांकेतिक विरोध प्रदर्शन हुए.

3. नार्थ कोरिया और अमरीका के बीच तनाव की स्थिति जारी है. रूस और फ़्रांस जैसे देश दोनों देशों से बातचीत का रास्ता अपनाने के लिए कह रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.