क्या असर या मगरिब में झाड़ू लगा सकते है ?..हजरत मुहम्मद(स.अ.व.) ने फ़रमाया

March 23, 2019 by No Comments

अक्सर कहा जाता है कि शाम के वक़्त घर में झाड़ू नहीं देना चाहिए,इस से घर की बरकत चली जाती है,इसी वजह से लोग अपने घरों में शाम के वक़्त झाड़ू नहीं लगाते हैं,लोग घरों में सुबह के वक़्त झाड़ू लगाते हैं,उसके बाद असर नमाज़ के बाद और मगरीब नमाज़ के बाद झाड़ू लगाने को गलत समझते हैं।आइये जानते हैं कि क्या रात को झाड़ू लगाना चाहिए या नहीं लगाना चाहिए।
दोस्तों कुरान हदीस में इस तरह की बात कहीं नहीं मिली है कि शाम के वक़्त झाड़ू नहीं लगाना चाहिए,बल्कि जब ज़रूरत हो उस वक़्त झाड़ू लगा लेना चाहिए और हमेशा घर को साफ रखना चाहिए।सफ़ाई का कोई वक़्त मुक़र्रर नहीं है,ये सब जिहालत पर मबनी बातें हैं कि शाम के वक़्त झाड़ू लगाना ठीक नहीं है।

PROPHET MUHAMMAD


क़ुरआन-ओ-हदीस में सफ़ाई के लिए कोई वक़्त मुक़र्रर नहीं है,जब भी सफ़ाई की ज़रूरत हो उसे करना चाहिए।बिलफ़र्ज़ शाम के वक़्त आपके घर में गंदगी फैल जाये और पूरे घर में इस गंदगी से बदबू फैल जाये तो क्या आप सुबह तक इंतिज़ार करेंगे?इसलिए सफ़ाई का कोई वक़्त मुक़र्रर नहीं है।जब भी इस की ज़रूरत हो उसी वक़्त उसे करना चाहिए तो ये ज़्यादा मुस्तहसिन है।
क्योंकि अल्लाह तआला ने फ़रमाया।बेशक अल्लाह बहुत तौबा करने वालों से मुहब्बत फ़रमाता है और ख़ूब पाकीज़गी इख़तियार करने वालों से मुहब्बत फ़रमाता है।(सूरे बकरा)…..इसी तरह अल्लाह के रसूल सललल्लाहु ताला अलैहि वसल्लम ने इरशाद फ़रमाया सफ़ाई निस्फ़ ईमान है।लिहाज़ा सुबह हो या शाम, रात हो या दिन, हर वक़त जब सफ़ाई की ज़रूरत पड़े तो उसे करना चाहिए। यही इस्लाम की मंशा है।
दोस्तों हमेशा घर को साफ रखना चाहिए,जब घर साफ होता है,तो इंसान बहुत सारी बीमारी से बच जाता है,वहीं जब घर साफ होता है,तो इंसान सुकून महसूस करता है,और अपने आप को हल्का फुल्का महसूस करता है,वहीं जब घर में सफाई नहीं होती है,तो इंसान का दिमाग बोझल रहता है,और इंसान को सफाई न होने की वजह से बीमारी भी लग जाती है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *