महागठबंधन ने मुस्लिम नेता के चुनावी समीकरण को बिगड़ा,भाजपा में भी खलबली

April 8, 2019 by No Comments

देवबंद-कल सात अप्रैल को सहारनपुर के देवबंद में महागठबंधन ने चुनावी रैली का आगाज़ किया.जानकारों का कहना था रैली में भीड़ अपेक्षा से कहीं ज्यादा थी.सबसे बड़ी बात रैली में मौजूद समर्थक जिस उत्साह से नारेबाजी कर रहे थे वो देखने लायक था.देवबंद सहरानपुर लोकसभा सीट में आता है कांग्रेस ने यहाँ से इमरान मसूद को टिकट दिया है.
एक जमाने में सहारनपुर सपा और बसपा का गढ़ था लेकिन पिछले लोकसभा चुनाव में इमरान मसूद ने मोदी पर ऐसा भाषण दिया जिससे उन्हें जेल की हवा खानी पड़ी लेकिन वो भाजपा के खिलाफ मुकाबले में आ गये और चार लाख वोट पाकर महज़ कुछ हजार वोटो से भाजपा उम्मीदवार राघव लखन पाल शर्मा से हार गये.

इमरान और शर्मा के बीच था मुकाबला-महागठबंधन बनने के बाद यहाँ बसपा फजरुल रहमान को बसपा ने टिकट दिया था,यहाँ पर मुस्लिम मतदाताओ की पहली पसंद इमरान मसूद दिख रहे थे लेकिन महागठबंधन बनने के बाद से ही मुस्लिम मतों का एक हिस्सा बसपा के दलित एवं सपा के यादव वोटो के वज़ह से कांग्रेस के इमरान को छोड़कर महागठबंधन को देख रहा है.
लेकिन महागठबंधन की सफल रैली के बाद मुस्लिम गंभीरता पूर्वक कांग्रेस और इमरान मसूद को छोड़कर भाजपा को हराने के लिए महागठबंधन को वोट देने का मन बना रहे है मुस्लिम वोटो में बदल रहे मिजाज़ से कांग्रेस खेमा भी परेशांन है लेकिन कांग्रेस की होने वाली रैली पर सबकी निगाहें थी अब खबर आ रही है कल होने वाली राहुल गाँधी और प्रियंका गांधी की रैली कांग्रेस ने खराब मौसम का हवाला देकर रद्द कर दिया है.

रैली रद्द होने से कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष इमरान मसूद के मुश्किले बढ़ गयी है.महागठबंधन को मनोवैज्ञानिक जीत जैसा है.वही भाजपा की इस सीट पर जीत की आस दो मुस्लिम नेताओ के बीच वोट बटने पर टिकी है.भाजपा को भी मुस्लिम दलित गोलबंदी से हार का डर सता रहा है.सहारनपुर में 42 प्रतिशत से थोडा कम मुस्लिम है वही दलित मतदाताओ की संख्या 19 पर्तिशत के आसपास है.सहारनपुर में चार प्रतिशत यादव मतदाता भी है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *