मक्का के डिप्टी गवर्नर ने ज़मज़म वेल के रिहैबिलिटेशन कार्य का जायज़ा लिया

जेद्दाह: सऊदी अरब में हर साल दुनिया भर से मुसलमान हज करने जाते हैं. लगातार हज करने आने वाले लोगों की संख्या में इज़ाफ़ा हो रहा है और इस वजह से व्यवस्था में कमी महसूस की जाती रही है.. इसको देखते हुए सऊदी अरब की सरकार व्यवस्था में भी बेहतरी ला रही है. इसी सिलसिले में ज़मज़म वेल के रिहैबिलिटेशन प्रोजेक्ट पर काम किया जा रहा है. ज़मज़म वेल का रिहैबिलिटेशन इ इसलिए किया जा रहा है कि आने वाले दिनों में हाजियों को पानी की कमी ना पड़े. सरकार चाहती हैं कि ये प्रोजेक्ट रमज़ान से पहले पूरा हो जाए.

मक्का क्षेत्र के डिप्टी गवर्नर प्रिंस अब्दुल्लाह बिन बन्दर बिन अब्दुल अज़ीज़ ने इस बीच प्रोजेक्ट पर हो रहे काम का जायज़ा लिया. उन्होंने अपने इंस्पेक्शन के दौरान मस्जिद अल हरम में मौजूद लोगों के बीच जागरूकता अभियान भी चलाया. प्रिंस अब्दुल्लाह ने अधिकारियों से भी बातचीत की. अधिकारियों ने भी काम के सिलसिले में कई अहम् बातें डिप्टी गवर्नर कहीं.

इस वेल के रिहैबिलिटेशन से काफी लोगों के लिए पानी की व्यवस्था हो जायेगी. ऐसा माना जा रहा है कि जिस तरह से हाजियों की संख्या में हर साल वृद्धि हो रही है उसको देखते हुए ये बहुत महत्वपूर्ण है. इसके अलावा वेल के रिहैबिलिटेशन से स्टोरेज, और पम्पिंग की व्यवस्था भी हो जायेगी. गौरतलब है कि इस्लाम में हज बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है. इस्लाम के पांच स्तम्भ में से हज भी एक है. इस्लाम के पांच स्तम्भ इस प्रकार हैं.पहला फ़र्ज़ क़लमा है, दूसरा फ़र्ज़ नमाज़, तीसरा ज़कात, चौथा रोज़ा और पाँचवाँ ज़क़ात है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.