रे-प की घटनाओं पर खट्टर का विवादित बयान-‘काफ़ी दिन इकट्ठे घूमते रहते हैं और एक दिन थोड़ी गड़बड़ हो गई’

November 18, 2018 by No Comments

चंडीगढ़: हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने एक और विवादित बयान दिया है. उनके इस बयान का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है. गुरुवार को एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने रे-प की घटनाओं के लिए सीधे तौर पर लड़कियों को ही जिम्मेदार ठहरा दिया. दरअसल मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि, “रे-प की घटनाए बढ़ी नहीं है, पहले भी ऐसी घटनाए होती थी और आज भी होती हैं. सबसे बड़ी चिंता यह है कि रे-प और छेड़छाड़ की घटनाएं 80 से 90 प्रतिशत जानकारों के बीच में होती हैं. एक दूसरे को जानते हैं. बहुत घटनाएं तो ऐसी होती है जिसमें काफी समय तक इकट्ठे घूमते रहते हैं और एक दिन थोड़ी गड़बड़ हो गई, तो उस दिन उठाकर के एफआईआर करवा देते हैं कि इसने मुझे रे-प किया.”

बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ का नारा देने वाली बीजेपी सरकार के मुख्यमंत्री खट्टर के इस शर्मनाक बयान के बाद विपक्ष भी हमलावर हो गया है. मुख्यमंत्री के बयान पर हमलावर होते हुए कांग्रेस के नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने ट्वीट करके कहा, ‘खट्टर का यह बयान उनकी महिला विरोधी मानसिकता को दिखाता है. हरियाणा के मुख्यमंत्री खट्टर जी की यह टिप्पणी पूरी तरह से निंदनीय है. रे-प और छेड़छाड़ के लिए महिलाओं को दोषी ठहराना, सरकार की विफलता को दिखाती है. यह दुखद है.

उधर बढ़ते अपराधों को लेकर विपक्ष हरियाणा में अराजकता की बात कहते हुए राज्य सरकार पर हमलावर है। हालांकि, यह पहली बार नहीं है हरियाणा के मुख्यमंत्री ने महिलाओं को सीधे रूप से रे-प के लिए दोषी ठहराया है. कुछ साल पहले खट्टर ने कहा था कि अगर महिलाएं ढंग के कपड़े पहनती है तो लोग उन्हें गलत ढंग से नहीं देखेंगे और रे-प की घटनाएं भी नहीं होगी.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *