पीएम मोदी के खिलाफ चुनाव लड़'ने सैनिक पहुंचा वाराणसी,बोला-नकली चौकीदार को ….

April 7, 2019 by No Comments

PM मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने की घोषणा करने वाले बीएसएफ के बर्खास्त जवान तेज बहादुर यादव रविवार को वाराणसी पहुंचे.यहां मीडिया से वार्ता करते हुए तेज बहादुर ने पीएम नरेंद्र मोदी पर जमकर हमला बोला.उन्होंने कहा,’प्रधानमंत्री कहते हैं कि न खाऊंगा न खाने दूंगा लेकिन भ्रष्टाचारियों का साथ देते हैं.देश का असली चौकीदार उनके सामने काशी से लड़ने आया है, वो नकली चौकीदार हैं.’
वाराणसी में मीडिया से बात करते हुए बीएसएफ के बर्खास्त जवान तेज बहादुर यादव ने कहा,‘जो वादे उन्होंने किए थे,वो एक भी पूरे नहीं हुए.उनके खिलाफ लड़कर जनता को सच्चाई बताऊंगा.हिम्मत तो जुटाना होगा क्योंकि 23 साल की उम्र में भगत सिंह फांसी पर चढ़ गए थे.हमने 21 साल फौज की नौकरी की है.’

तेज बहादुर यादव ने दावा करते हुए कहा,पीएम मोदी के सामने वाराणसी चुनाव लड़ने के लिए उन्हें कई राजनैतिक पार्टियों से समर्थन मिला है.यादव सेना और राम सेना भी हमारे समर्थन में है.वहीं,ओमप्रकाश राजभर ने पूरी तरीके से उन्हें समर्थन देने की बात की है.कहा,हमारी पूरी पार्टी आप के चुनाव प्रचार में आपके साथ खड़ी रहेगी.तेज बहादुर ने दावा किया कि 10 हजार पूर्व सैनिक उनके साथ हैं,जो वाराणसी आएंगे.
आपको बता दें कि तेज बहादुर यादव ने 2017 में सोशल मीडिया पर एक वीडियो अपलोड किया था,जिसमें वह जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर पहाड़ी इलाके के बर्फीले स्थान पर सैनिकों को मिलने वाले भोजन की गुणवत्ता की शिकायत करते नजर आ रहे थे.इसके बाद उसे अनुशासनहीनता के आरोप में बर्खास्त कर दिया गया था.तेज बहादुर वीडियो के द्वारा बताया था कि जवानों को सही खाना नहीं मिलता है और कई बार उन्हें भूखे पेट भी सोना पड़ता है.

मामला गृह मंत्रालय तक पहुंचने पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने बीएसएफ से रिपोर्ट मांगी थी.तब तेज बहादुर ने कहा था, ‘सरकार हमें हर चीज देते ही लेकिन आला अधिकारी सब बेचकर खा जाते हैं और हमें कुछ नहीं मिलता है.कई बार जवानों को भूखे पेट सोना प़ड़ता है,मैं फिर कहता हूं कि भारत सरकार हमें सब कुछ मुहैया कराती है,स्टोर भरे पड़े हैं लेकिन सब बाजार चले जाता है इसकी जांच होनी चाहिए.’

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *