मोहन भागवत के बाद अमित शाह के कार्यक्रम पर ममता सरकार ने लगाई रोक

कोलकाता: पश्चिम बंगाल में बीजेपी और टीएमसी के बीच तनातनी बढ़ती जा रही है। संघ प्रमुख मोहन भागवत के बाद अब कोलकाता में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के कार्यक्रम की बुकिंग रद्द कर दिया गया है।

अमित शाह 11 से 13 सितंबर तक कोलकाता के दौरे पर जाने वाले हैं , जिसके लिए नेताजी इंडोर स्टेडियम को बुक किया गया था, जिसे अब रद्द कर दिया गया है। वहां पर कुछ काम चलने की वजह से परमिशन नहीं दी गई थी।

बीजेपी नेताओं का आरोप है कि कार्यक्रम की बुकिंग को बंगाल सरकार के इशारे रद्द किया गया है। सत्तारुढ़ तृणमूल कांग्रेस ने दावा किया कि उसका इन बातों से कोई लेना-देना नहीं है।

बंगाल के बीजेपी नेता सैतन बसु ने कहा कि पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के 10 से लेकर 12 सितंबर कोलकाता दौरे पर आ रहे हैं, जिसके लिए 28 अगस्त को नेताजी सुभाष चंद्र बोस स्टेडियम को बुक कराया गया था।

2 दिन बाद स्टेडियम के अधिकारियों ने बुकिंग का कंफर्मेशन लेटर दे दिया। लेकिन उसके 2 ही दिन बाद ही ये सूचना दी गई कि बुकिंग रद्द की जा रही है।

इस मामले में बीजेपी नेता रूपा गांगुली ने ममता सरकार पर हमला करते हुए कहा कि सीएम ममता बनर्जी हर मुद्दे पर राजनीति कर रही है। उन्होंने कांग्रेस और लेफ्ट पर इस तरह की रोक नहीं लगाई है बल्कि बीजेपी पर लगातार रोक लगा रही है।

आपको बता दें कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के कार्यक्रम की बुकिंग रद्द होने से एक दिन पहले ही 3 अक्तूबर को आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के एक कार्यक्रम के लिए हुई बुकिंग को रद्द करने से राजनीति गरमा गई थी। ये कार्यक्रम ‘भारत के राष्ट्रवादी आंदोलन में सिस्टर निवेदिता की भूमिका’ के विषय में था। बुकिंग रद्द होने के बाद आयोजक अब नए ऑडिटोरियम की तलाश कर रहे हैं।

इस मामले में ममता सरकार पर हमला करते हुए आरएसएस ने ट्वीट कर आरोप लगाया कि जिहादी तत्वों को तुष्ट करने के लिए ऐसा किया गया लेकिन तृणमूल सरकार ने कहा कि सुरक्षा कारणों से ऐसा किया गया क्योंकि उस दौरान ऑडिटोरियम का जीर्णोद्धार चल रहा होगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.