दिवाली पर एकजुट हुआ मुलायम परिवार- साथ नज़र आये अखिलेश और शिवपाल

इटावा: समाजवादी पार्टी में चल रही खींचतान दिवाली के मौक़े पर कुछ कम हुई है. अखिलेश यादव और शिवपाल यादव बहुत दिन बाद एक साथ नज़र आ रहे हैं. दिवाली के शुभ अवसर पर परिवार अपने गिले-शिकवे भुला कर एक साथ नज़र आ रहा है.

इटावा में पार्टी के सर्वे सर्वा मुलायम सिंह यादव, उनके भाई शिवपाल सिंह यादव और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव एक साथ त्यौहार मना रहे हैं. पार्टी के लिए इसे अच्छी ख़बर माना जा रहा है.

पिछले कई महीनों से चला आ रहा विवाद अब सुलह के दौर में है. पार्टी के क़रीबी सूत्रों से पता चला है कि शिवपाल यादव और अखिलेश यादव में सुलह की प्रबल संभावनाएँ हैं. हालाँकि शिवपाल यादव और उनके समर्थक इस बात को लेकर नाराज़ हैं कि अभी तक ये बात साफ़ नहीं हुई है कि सुलह की अवस्था में उनकी क्या भूमिका होगी.

शिवपाल यादव के क़रीबी लोगों का कहना है कि वे ये उम्मीद कर रहे हैं कि आगे चल कर इस पर भी चर्चा होगी.

गौरतलब है कि पिछले साल के मध्य के बाद से शुरू हुए विवाद की वजह से पार्टी में दो गुट बन गए. एक गुट शिवपाल सिंह यादव और मुलायम सिंह यादव का रहा तो दूसरा अखिलेश यादव और राम गोपाल यादव का. इस पूरे मामले में शिवपाल यादव को समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष पद से हाथ धोना पड़ा वहीँ मुलायम को राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से हटा दिया गया और अखिलेश यादव राष्ट्रीय अध्यक्ष बन गए. शिवपाल की पार्टी में स्थिति कमज़ोर हो जाने के बावजूद भी उन्हें जनाधार वाला नेता माना जाता है. इसको देखते हुए अखिलेश गुट भी चाहता है कि किसी तरह का समझौता हो जाए तो बेहतर है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.