राज ठाकरे चलाएंगे ‘मोदी मुक्त भारत’ अभियान, कहा-2019 में देश को तीसरी आजादी की जरूरत

March 19, 2018 by No Comments

महाराष्ट्र: भारतीय जनता पार्टी जब 2014 के चुनाव की तैयारी कर रही थी तब कई ऐसे दल थे जो नरेंद्र मोदी पर भरोसा कर रहे थे, इन्हीं में से एक महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के अध्यक्ष राज ठाकरे भी थे। राज ठाकरे ने तब मोदी का खुला समर्थन किया था और कहा था कि फ़िलहाल देश में मोदी लहर है।

मगर चार साल बाद राज ठाकरे के विचार में भारी परिवर्तन है। वो अब भाजपा और मोदी के विरोध में लगातार बयान दे रहे हैं। गुडी पड़वा के पर्व पर एक जनसभा को संबोधित करते हुए ठाकरे ने कहा कि सभी राजनीतिक पार्टियों को एकजुट होकर भाजपा को हराना चाहिए। उन्होंने कहा कि ‘मोदी-मुक्त’ भारत होना चाहिए। ग़ौर करने की बात ये है कि मनसे भी हिंदुत्व के एजेंडा पर काम करती है, इसलिए मनसे का नाराज़ होना भाजपा के लिए झटका माना जा रहा है।  उन्होंने कहा है कि 2019 में भारत को तीसरी आजादी की जरूरत है। उन्होंने विपक्षी एकता का आह्वान करते हुए कहा कि सभी विपक्षी दलों को एकजुट होकर 2019 में हमें मोदी मुक्त भारत बनाना चाहिए। 

रविवार को मुंबई के शिवाजी पार्क में आयोजित रैली में राज ठाकरे ने कहा कि देश अब मोदी सरकार के झूठे वादों से थक चुका है। उन्होंने दावा किया कि मोदी सरकार जाने के बाद यदि नोटबंदी की जांच कराई गई तो यह आजादी के बाद देश का सबसे बड़ा घोटाला साबित हो सकता है।

शिवसेना और मनसे दोनों ही का भाजपा से मोह भंग होना साफ़ दर्शाता है कि भाजपा के लिए मुसीबतें बढ़ रही हैं। इसके पहले जीतन राम मांझी तो NDA से अलग हो ही चुके हैं, साथ ही साथ राम विलास पासवान भी कुछ ऐसी ही बात कर रहे हैं। जहाँ एक ओर NDA में फूट पड़ रही है, विपक्ष नए गठबंधन बना रहा है। लंबे समय से एक दूसरे के विरोधी रहे सपा और बसपा में लगभग दोस्ती हो गयी है। सपा और बसपा ने साथ चुनाव लड़ कर फूलपुर और गोरखपुर लोकसभा सीट में भाजपा को शिकस्त दी है। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इसके बाद बसपा प्रमुख मायावती से मुलाक़ात भी की।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *