न्यूजीलैंड में आतं!की हम'ला:गौतम गंभीर ने मीडिया को बताया ज़िम्मेदार,बोले-मुस्लिम के खिलाफ प्रोपेगंडा…

March 16, 2019 by No Comments

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व बल्लेबाज़ गौतम गंभीर सोशल मीडिया पर अक्सर सक्रिय रहते है वो देश विदेश की घटनाओ पर अपनी राय देते है.पिछले दिनों उनकी चर्चा थी कि वो भा जपा से चुना’व ल’ड़ सकते है लेकिन इसको अभी तक कोई पुष्ठी ना तो गौतम गंभीर ने की और ना ही भा जपा ने इस बारे में कुछ कहा.लेकिन गौतम गंभीर ने कल न्यूजीलैंड में हुए आतं’की हमले पर प्रतिक्रिया में ऐसा कुछ लिखा कि हर कोई उनकी तारीफ कर रहा है.
जाने मामला-
न्यूजीलैंड की दो मस्जिदों में हुए आतं’की हमले में 49 लोगो की मौ’त हो गयी है.म’रने वालो में कई भारतीयों का भी नाम सामने आ रहा है.मीडिया के मुताबिक,इस घटना के बाद वहां भारतीय मूल के 9 लोग भी लापता हैं.न्‍यूजीलैंड में भारतीय राजदूत ने इसकी जानकारी दी.आतं’कवादी ने शुक्रवार की नमाज के वक्‍त हम’ला किया जिस वक्‍त वहां काफी लोग थे.

उसने वहां से निकलने के बाद भी गोलीबारी की जिसमें वहां से गुजरने वाले लोगों को निशाना बनाया.इस हमले में 49 लोगों की मौत हो गई जबकि 20 अन्‍य घायल हैं.इस हमले को आतंकी हमला माना जा रहा है और शुरुआती जांच के बाद इसके पीछे नस्‍लीय और मुस्लिम से नफरत वजह सामने आ रही है.तीन गिरफ्तार लोगों में से एक 20 वर्षीय ऑस्‍ट्रेलियाई नागरिक है जिसे हमलावर माना जा रहा है.
प्रधानमंत्री जेसिंडा एर्डर्न ने न्यू प्लाईमाउथ में मीडिया को संबोधित करते हुए क्राइस्टचर्च की घटना को न्यूजीलैंड के इतिहास की सबसे खराब घटना बताया है.दूसरी तरफ,पुलिस ने इस घटना के बाद 4 लोगों को हिरासत में लिया है.उन्होंने इसे आतंकी घटना करार दिया है.न्यू जीलैंड की प्रधानमंत्री ने इसे आतंकी घटना बताते हुए कहाकि पीड़ित उनके देश के है और जो हमलावर है वो इस देश का हिस्सा नही हो सकता है.

गौतम गंभीर ने मीडिया को बताया ज़िम्मेदार-अपने जमाने के धाकड़ बल्लेबाज़ गौतम गंभीर ने भी इस घटना की प्रतिक्रिया देते हुए कहाकि इस हमले में मीडिया के द्वारा चलाया जा रहा प्रोपगंडा भी एक बड़ी वज़ह है.हमने भारत में मुस्लिम को दमनकारी साबित करने का काम किया है जिससे सोशल मीडिया पर बहुसंख्यको की वाहवाही मिल सके और टीवी को रेटिंग.मेरे लिए लोकतंत्र में सेकुलरिज्म सबसे सही चीज़ है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *