नीरव मोदी घोटाले के बाद बढ़ जायेगी बेरोज़गारी

February 23, 2018 by No Comments

नीरव मोदी और गीतांजलि जेम्स के बाद रोटोमैक कंपनी का नाम घोटाले में आ गया है। इससे जहाँ एक बात ये तो आ ही रही है कि आम जनता का बैंक में जमा पैसा ये घोटालेबाज़ लेकर मज़े कर रहे हैं, वहीं दूसरी बात ये है कि इन घोटालेबाज़ों की कंपनियां बंद होने की नौबत आने पर बेरोज़गारी बढ़ेगी। असल में इन कंपनियों में काम करने वाले लोगों से कह दिया गया है कि वो कहीं और काम ढूंढ लें,ऐसे में रोज़गार बाज़ार में नए बेरोज़गार आ जाएंगे।

ये ऐसे बेरोज़गार हैं जो अनुभवी भी हैं और अच्छी पढ़ाई भी किये हैं। अब ऐसे में इन लोगों का एक साथ बेरोज़गार होना बड़ी समस्या है। जानकार मानते हैं कि जब किसी समाज की ग्रोथ में भ्रष्टाचार शामिल होता है तो अचानक ही मंदी आ जाती है। ताज़ा मामले इसी बात को दर्शाते हैं, झूठ और घोटाले पर बढ़ी कंपनी का हश्र आख़िर तो यही होना था लेकिन उसके कर्मचारी अब एक ऐसे गुनाह की सज़ा पाएंगे जो उन्होंने किया ही नहीं।

सरकार पहले ही रोज़गार दे पाने में नाकाम नज़र आ रही है और नए बेरोज़गार आ जाने से उस पर और दबाव पड़ेगा। अब इसको लेकर सरकार क्या रणनीति बनाती है ये देखने की ही बात होगी लेकिन फ़िलहाल ये एक बड़ा संकट ही नज़र आ रहा है। गौरतलब है कि नीरव मोदी 11,500 करोड़ रूपये लेकर देश से भाग गया है. नीरव मोदी के अलावा उसके परिवार के भी अधिकतर लोग देश से बाहर हैं. ऐसे में ये माना जा रहा है कि सरकार को उसे वापिस लाने के लिए कड़ी मशक्कत करनी होगी. इस बीच नीरव मोदी ने अपने क्रमचारियों को कह दिया है कि वो कहीं और काम ढूंढ लें.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *