महाराष्ट्र: नीरव मोदी ने धोखे से हड़पी थी ज़मीन, किसानों ने शुरू किया आंदोलन

March 18, 2018 by No Comments

महाराष्ट्र में अहमदनगर के कांदला गांव में किसानों ने पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के मुख्य आरोपी नीरव मोदी के खिलाफ प्रोटेस्ट किया है। किसानों का आरोप है कि नीरव मोदी ने तय दाम से भी कम दाम देकर हड़प ली थी। हीरा व्यापारी नीरव मोदी देश में १३ हज़ार करोड़ के घोटालों को अंजाम देकर यहाँ से फरार होकर विदेश भाग गया है।
वहीँ नीरव मोदी ने जिन किसानों की ज़मीन कम दाम में हथिया ली थी, करीब दो सौ किसान बैलगाड़ियों में कांदला गांव स्थित जमीनों के पास गए और अपनी जमीन पर वापस कब्जा लेने के संकेत देते हुए वहां पर ट्रैक्टर चलाए। उन्होंने कहा कि वह 125 एकड़ भू्मि पर जल्द खेती शुरू करेंगे, घोटालेबाज़ नीरव मोदी ने हमारी ये जमीन ठगी करके हड़पी है। हम यह आंदोलन जमीनों पर अपने कब्ज़ा वापिस लेने के लिए कर रहे हैं।

उन्होंने बताया नीरव मोदी ने उनसे ये जमीन अपनी कंपनी ‘फायरस्टार’ के लिए ली थी। जमीन का सरकारी मुआवजा रेट 20 लाख रुपेय प्रति एकड़ है लेकिन किसानों को केवल 15 हजार प्रति एकड़ दिया गया। हमारे साथ नीरव मोदी ने धोखा किया है। इसलिए हम सब किसान इसके खिलाफ आंदोलन कर रहे हैं।

इस मुद्दे पर बात करते हुए एक किसान ने बताया ‘नीरव मोदी ने यह जमीन ठगी करके हड़पी है। नीरव मोदी को बैंकों ने करोड़ों रुपए दे दिए, लेकिन किसनों को 10,000 रुपए से ज्यादा नहीं दिए गए। हमने इसके खिलाफ ‘भूमि आंदोलन’ कर रहे हैं।

आपको बता दें की नीरव मोदी मामले में गिरफ्तार 11 आरोपियों को हिरासत में लिया गया है। जिन्हे 28 मार्च तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। दूसरी तरफ बिजनेस स्टैंडर्ड के मुताबिक ईडी विजय माल्या और नीरव मोदी समेत अन्य भगोड़ों की जब्त संपत्तियों को सरकार भवन निर्माण कंपनी एनबीसीसी लिमेटेड के हवाले कर सकती है। इसके बाद एनबीसीसी इन्हें बिजनेस और अन्य उद्देश्यों के लिए किराए पर दे सकता है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *