नीतीश का बाँध था या बताशा जो पानी आते ही गल गया: लालू प्रसाद यादव

September 21, 2017 by No Comments

पटना: नीतीश कुमार की सरकार द्वारा बनवाये गए बटेश्वरस्थान गंगा पम्प नाहर परियोजना के तहत बाँध टूट जाने से मुख्यमंत्री की ज़बरदस्त फ़ज़ीहत हुई है. अपनी सरकार में भ्रष्टाचार ना होने की बात करने वाले नीतीश के लिए ये बड़ा झटका है.

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने कटाक्ष करते हुए पूछा है कि 828 करोड़ का नीतीश का बांध था या बताशा जो पानी आते ही गल गया।

लालू ने कहा कि नीतीश कुमार कहते हैं कि प्रदेश में बाढ़ की मुख्य वजह चूहे हैं अब क्या बाँध के बारे में भी ऐसा ही कुछ कहेंगे. उन्होंने कहा,”बक़ौल नीतीश सरकार पहले चूहे बिहार में बाढ लेकर आए तो क्या अब 828 करोड़ का बाँध घड़ियाल ने थुथुन से तोड़ दिया है?”

राजद नेता तेजश्वी यादव ने भी नीतीश को घेरा. उन्होंने कहा,”देश जान रहा है कि बिहार सरकार में अब कैसे चूहे भ्रष्टाचारी बन गए है? अब सीमेंट और कांक्रीट के बाँध को भी ये सरकारी सरपरस्ती में कुतर रहे है।”

उन्होंने इसके अतिरिक्त एक ट्वीट में कहा,”महागठबंधन सरकार में राजद बड़ी पार्टी थी। उसमें नीतीश जी के भ्रष्ट सिपहसलारों को घोटाले करने की छूट नहीं थी इसलिए उनका दम घुट रहा था। समझें?”

तेजश्वी ने नीतीश की चुप्पी पर सवाल उठाते हुए कहा,”नीतीश जी घोटालों पर चुप है तथा उनकी पर्दे पीछे वाली तथाकथित ईमानदार छवि से पूरा देश परिचित हो चुका है। बॉस, पब्लिक है ये सब जानती है।”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *