भाजपा नेता ने माना- 2013 जैसी ‘मोदी लहर’ नहीं है

November 1, 2018 by No Comments

नई दिल्ली :चुनाव से पहले बीजेपी के दिग्गज नेता का बड़ा बयान आया है। इस नेता ने कहा है कि देश में अब मोदी लहर नहीं है। यहां 2013 जैसी लहर नहीं है। यह बयान मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर ने दिया है। वे उम्र दराज होने के साथ ही पार्टी से साइडलाइन चल रहे हैं। गौर ने कहा है कि यदि मुझे टिकट नहीं मिला तो पार्टी के लिए काम करता रहूंगा। गौर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि 2013 जैसी मोदी लहर अब नहीं है।

गौरतलब है कि गुरुवार को दिल्ली में मध्यप्रदेश के प्रत्याशियों के नाम फाइनल हो रहे हैं, जबकि एक लिस्ट जारी हो रही है। ऐसे में बाबूलाल गौर का टिकट कटने की आशंका के चलते उनके इस बयान को काफी अहम माना जा रहा है। दरअसल गोविंदपुरा सीट पर 50 फीसदी से ज्यादा वोटर पिछड़ी जाति से हैं. मध्य प्रदेश की राजनीति में माना जाता है कि पिछड़ी जाति के लोग बीजेपी के पारंपरिक वोटर हैं. दिलचस्प बात यह है कि बाबूलाल गौर की उम्र के साथ ही इस सीट पर उनके जीत का अंतर बढ़ता चला गया. 2013 के चुनाव में बाबूलाल गौर ने कांग्रेस के गोविंद गोयल को 70 हजार वोटों के अंतर से हराया था. इससे पहले 2008 के चुनाव में उन्होंने कांग्रेस की उम्मीदवार विभा पटेल को 33 हजार से ज्यादा वोटों से शिकस्त दी थी.

आपको बता दे बुधवार को कांग्रेस की बैठक में ज्योतिरादित्य सिंधिया और दिग्विजय सिंह की तकरार के बाद CEC की बैठक टाल दी गयी है. इस बैठक में कांग्रेस अपनी पहली लिस्ट फायनल कर प्रत्याशियों के नाम घोषित करने वाली थी. कांग्रेस पार्टी द्वारा मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए टिकट को लेकर नेताओं के बीच घमासान खत्‍म करने के लिए नई कमेटी बनाई गई है. कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने तीन सदस्‍यीय कमेटी का गठन किया है. इसमें अहमद पटेल,अशोक गहलोत,वीरप्पा मोइली को शामिल किया गया है.सूत्रों से खबर मिली है कि बुधवार को CEC की बैठक के दौरान कुछ सीटों को लेकर दिग्विजय सिंह और ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीच काफी बहस हुई. हालांकि इस मसले पर वीरप्‍पा मोइली की ओर से कहा गया है कि कोई लड़ाई नही है. सब कुछ ठीक है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *