राजस्थान: भाजपा की लिस्ट में अब तक एक भी मुस्लिम उम्मीदवार नहीं

November 15, 2018 by No Comments

जयपुर: राजस्थान में चुनाव प्रचार ज़ोर शोर से चल रहा है. भाजपा ने अब तक २०० सीटों में से १६२ उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है लेकिन इनमें से एक भी टिकट किसी मुस्लिम को नहीं दिया गया है. बीजेपी ने इस बार 40 निर्वतमान विधायकों और 4 मंत्रियों को टिकट नहीं दिया है. इस बात को लेकर भाजपा में भारी असंतोष की भावना नज़र आ रही है. अगर भाजपा में असंतोष नज़र आ रहा है तो कांग्रेस में भी कोई मामला एकदम ठीक नहीं है. राज्य में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की सरकार के ख़िलाफ़ कांग्रेस तगड़ा अभियान चला रही है वहीं अपना घर भी कांग्रेस के लिए एक मत करना मुश्किल हो रहा है.

इतना जरूर है कि पार्टी की ओर से सचिन पायलट और पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की दावेदारी तय कर दी है. गौरतलब है कि सचिन पायलट और अशोक गहलोत दोनों ही मुख्यमंत्री पद के दावेदार हैं और दोनों में किसी तरह का टकराव न होने पाए इसलिए केंद्रीय आलाकमान फूंक-फूंक कर कदम रख रहा है. बुधवार को एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में अपनी उम्मीदवारी की पुष्टि करते हुए पायलट ने राज्य में वसुंधरा राजे के नेतृत्व वाली भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सरकार को उखाड़ फेंकने का विश्वास जताया. सत्ता में आने पर कांग्रेस का मुख्यमंत्री कौन होगा? जवाब से बचते हुए पायलट ने कहा, “मैं और गहलोत दोनों ही विधानसभा चुनाव लड़ेंगे और कांग्रेस राज्य की सत्ता में आएगी.”

भारतीय जनता पार्टी के बारे में बात करें तो भाजपा ने ४४ नए चेहरों को मौक़ा दिया है जिनमें १९ महिलायें भी हैं. राजस्थान में भाजपा ने इस बार कट्टर छवि वाले बनवारी लाल सिंघल और ज्ञानदेव आहुजा को टिकट नहीं दिया है. हालांकि बीजेपी की लिस्ट जैसे-जैसे जारी हो रही है उसको भी विद्रोह का सामना करना पड़ रहा है. सांसद और पूर्व डीजीपी हरीश मीणा, नागौर सीट से बीजेपी विधायक रहे हबीब-उर-रहमान टिकट मिलने पर कांग्रेस में शामिल हो गए हैं. बीजेपी के 162 प्रत्याशियों में एक भी मुस्लिम नहीं है. अब जबकि चुनाव में एक महीने का भी समय नहीं है, ऐसे में भाजपा और कांग्रेस के बीच मुक़ाबला कड़ा होता जा रहा है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *