ओवैसी ने अखिलेश की तरफ दोस्ती का बढ़ाया हाथ,कहा-सपा अगर साथ आती है…

बाहुबली माफिया डॉन अतीक अहमद की पत्नी शाइस्ता परवीन अपने परिवार सहित मंगलवार को लखनऊ में एआईएमआईएम में शामिल हुईं। अतीक के परिवार का पार्टी में स्वागत करते हुए ओवैसी ने कहा कि भाजपा के 38 फीसदी विधायकों पर आपरा–धिक मुक दमे हैं। 116 एमपी का भी यही रिकॉर्ड है।

असदउद्दीन ओवैसी (AIMIM अध्यक्ष), (क्रेडिट: फ़ाइल फ़ोटो)

एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि वह सपा से एलायंस के लिए तैयार हैं। मीडियो को यह सवाल उनसे (सपा नेता से) पूछना चाहिए कि वह तैयार हैं कि नहीं। सपा-बसपा हमको अछूत मानती हैं तो इस पर हमें कोई एतराज नहीं। साथ ही सुभासपा के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर के सवाल पर कहा कि हम उनके साथ हैं। जल्द ही उनसे दोबारा मुलाकात होगी।


बाहुब-ली माफिया डॉन अतीक अहमद की पत्नी शाइस्ता परवीन अपने परिवार सहित मंगलवार को लखनऊ में एआईएमआईएम में शामिल हुईं। अतीक के परिवार का पार्टी में स्वागत करते हुए ओवैसी ने कहा कि भाजपा के 38 फीसदी विधायकों पर आप राधिक मुकद मे हैं। 116 एमपी का भी यही रिकॉर्ड है।


यहां तक कि उनके सहयोगी जदयू के 81 फीसदी लोगों पर आपरा धि क मामले हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खुद अपने पर लगे के स को वापस लेते है। जिस नेता का नाम प्रज्ञा (प्रज्ञा ठाकुर) या कपिल (कपिल मिश्रा) होगा, वह लोकप्रिय नेता होगा।


लेकिन, जिसका नाम अतीक और मुख्तार होगा वह बाहुब ली होगा। अभी तक किसी भी के स में अतीक पर जु र्म साबित नहीं हुआ है। मुजफ्फरनगर दं गे से संबंधित 77 केसों को राज्य सरकार ने वापस ले लिया है।

सपा-बसपा पर साधा निशाना

ओवैसी ने कहा कि हम उत्तर प्रदेश की जनता के बीच जाएंगे। यहां के 19 प्रतिशत मुसलमानों ने जिनको गद्दी पर बैठाया, उन्होंने सत्ता में आने पर उनके लिए कुछ नहीं किया। संसद में सीए ए का बिल हमने फाड़ा। सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने तो ऐसा कुछ भी नहीं किया।


मुजफ्फरनगर दं गे के दौरान 50000 लोग बे घर हुए, उस समय सपा के मुस्लिम नेताओं को उनकी याद क्यों नहीं आई। कक्षा- 5 से 10 के बीच 60 फीसदी मुस्लिम बच्चे स्कूल छोड़ देते है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बघेल और अनुप्रिया पटेल को मंत्री बनाया है, तो इसके पीछे उनकी जाति के ही वोट हैं। लेकिन, जब मुसलमानों की बात की जाती है, तो कहते हैं कि इससे सांप्रदा यिकता बढ़ेगी।


ओवैसी ने कहा कि आने वाले विधानसभा चुनाव में 100 सीटों पर लड़ने की तैयारी कर रहे हैं।  हमारी प्राथमिकता बीजेपी को हराना है। हम हिंदुओं को भी बराबर टिकट देंगे। ओबीसी और दलित समाज के लोग हमारे भाई हैं।


जातिगत जनगणना होनी चाहिए। आरक्षण 50 फीसदी की सीमा से ज्यादा होना चाहिए।  उन्होंने कहा कि हम अब भारत के संविधान को न मानकर  डीएनए को मानें, यह नौबत नहीं आनी चाहिए। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े लोग इतिहास में बहुत कमजोर होते हैं।


केवल मुसलमानों के सहारे आप क्यों जीतना चाहते हैं? इस सवाल पर ओवैसी ने कहा कि बिहार में हमने 20 सीटों पर लड़े और 5 जीते। 9 सीटों पर महागठबंधन जीता था। इस बार यहां भी उत्तर प्रदेश का मुसलमान जीतेगा।

असदउद्दीन ओवैसी (AIMIM अध्यक्ष), (क्रेडिट: फ़ाइल फ़ोटो)

उन्होंने यूपी में अपने संगठन के मजबूत होने का दावा भी किया। ओवैसी ने कहा कि अफगानिस्तान में जो बदलाव हुए हैं, वो भारत के हिसाब से ठीक नहीं हैं। इससे पाकिस्तान को फायदा होगा। शाइस्ता परवीन ने कहा कि ओवैसी दलित और मुसलमान के बीच अच्छा काम कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.