शिवसेना को PM मोदी से डर लगता है- ओवैसी

October 20, 2018 by No Comments

नई दिल्ली: जैसे-जैसे लोकसभा चुनाव नज़दीक आ रहे हैं वैसे-वैसे ही नेताओं के बीच ज़ुबानी बहस तेज़ हो रही है. हर चुनाव की तरह एक बार फिर इस चुनाव से पहले राम मंदिर का मुद्दा भाजपा और शिव सेना जैसी पार्टी उठाने लगी हैं. ऐसे में अब सवाल ये उठ रहा है कि आने वाला लोकसभा चुनाव क्या फिर मन्दिर-मस्जिद पर ही लड़ा जाएगा या फिर कोई दल विकास की बात भी करेगा.

शिव सेना के नेता संजय राउत ने कहा कि अगर आज क़ानून नहीं बन पाता है तो आगे कभी नहीं बन पाएगा.. आज हमारे पास मेजोरिटी है, 2019 चुनाव के बाद क्या हो पता नहीं. राम मंदिर बनाने को लेकर वो क़ानून बनाने की वक़ालत करते हुए बोले कि राम मंदिर का मुद्दा अदालत सोल्व नहीं कर सकती, ये आस्था का विषय है. उन्होंने कहा कि ये मोदी जी की इच्छाशक्ति की बात है.

उन्होंने आल इंडिया मजलिस ए इत्तिहादुल मुस्लिमीन के अध्यक्ष असद उद्दीन ओवैसी को इस मामले से दूर रहने की सलाह दी. उन्होंने कहा कि राम मंदिर अयोध्या में बनाया जाना है न कि हैदराबाद, पाकिस्तान या ईरान में.. उनके जैसे लोग मुस्लिम समाज को बहका रहे हैं…इससे भविष्य में नुक़सान होगा.

शिवसेना नेता के बयान पर असद उद्दीन ओवैसी ने भी जल्द ही प्रतिक्रया दे दी. उन्होंने कहा कि शिवसेना को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से डर लगता है और वो अपनी कायरता को छुपाने के लिए एडिटोरियल्स लिखती रहती है. उन्होंने कहा कि मेरी ये इल्तिजा है शिवसेना से कि एडिटोरियल्स लिखना बंद करें और मोदी और फडनवीस सरकार से बाहर आएं.

आपको बता दें कि अगले साल लोकसभा चुनाव होने हैं. इस चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी के बीच मुख्य मुक़ाबला माना जा रहा है. ऐसा माना जा रहा है कि विपक्षी दल भाजपा को साम्प्रदायिकता के मुद्दे पर घेरेंगे वहीं भाजपा के लिए ये लाभदायक हो सकता है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *