हैदराबाद के बारे में ओवैसी ने कह दी बड़ी बात…

हैदराबाद। ऑल इंडिया मजलिसे इत्तहादे मुसलीमीन ( एआइएमआइएम AIMIM ) के प्रमुख असदुद्दीन औवेसी ने तेलंगाना राज्य को देश का सबसे ज़्यादा प्रगतिशील राज्य बताया है। साथ ही उन्होंने तेलंगाना को मुसलमानों ,दलितों और महिलाओं के लिए देश का सबसे सुरक्षित स्थान बताया है। दरअसल इन दिनों असदुद्दीन औवेसी चुनावी रेलियों और बैठकों मे व्यस्त हैं। उन्होंने बुद्धवार को मक़्ता मदर साहिब, खैरताबाद और मुर्शिदाबाद मे जनसभाएं की। वह इन जनसभाओं मे तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस ) के प्रत्याशी के समर्थन मे प्रचार कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि जहाँ सारे भारत से दलितों और मुसलमानों पर अत्याचार की ख़बरें आ रही हैं ,वहीं तेलंगाना एक ऐसा राज्य है जहाँ से ऐसी किसी घटना की ख़बर नहीं मिली है।

AIMIM प्रमुख ने मॉब लिंचिंग के बहाने केन्द्र की बीजेपी सरकार पर भी हमला किया। इशारों इशारों मे उन्होंने कहा कि जब कहीं मॉब लिंचिंग की घटना होती है तो उसमें मुसलमानों के लिए एक संदेश छिपा होता है। वह संदेश है कि मुसलमान देश के प्रथम श्रेणी के नागरिक नहीं हैं। उनकी हैसियत घर के मालिक की नहीं बल्कि एक किराएदार जैसी रह गई है। उनको बार बार देश छोड़ने के लिए कहा जाता है।असदुद्दीन औवेसी ने आगे कहा कि हैदराबाद मे मुसलमानों के ख़िलाफ़ संप्रदायिक घटनाएं नहीं होती हैं। उनको गाय का गोश्त खाने का इलज़ाम लगाकर मारा नहीं जाता है। महिला सुरक्षा पर उन्होंने कहा कि हैदराबाद मे महिला आधी रात को भी बिना किसी डर के घर लोट आती है।

उन्होंने आगे कहा विरोधी सही आरोप लगाते हैं कि AIMIM ने टीआर एस से अपनी शर्तों पर समझोता किया है।उन्होंने खुलासा किया कि उन्होंने इस समझौते मे मुख्यमंत्री के चंद्र शैखर राव से शिक्षा मे पिछड़े पन को दूर करने की मांग की है, 200 स्कूल खोलने की मांग रखी है,पाँच हज़ार मेघावी छात्रों की शिक्षा की ज़िम्मेदारी, एक लाख मुस्लिम लड़कियों की शादियों के फंड की मांग रखी है, तब जाकर समझोता किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.