‘तो जो भाजपा सरकार मंदिरों और पुजारियों को दे रही है वो तुष्टिकरण नहीं?: ओवैसी

January 18, 2018 by No Comments

AIMIM के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने केंद्र सरकार के ‘हज सब्सिडी ख़त्म’ करने के फ़ैसले पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि बीते साल 2017 में सिर्फ दो सो करोड़ रुपये हज सब्सिडी दी गई लेकिन मोदी सरकार इसे 700 करोड़ की सब्सिडी बताकर मुद्दा बनाना चाहती है. उन्होंने कहा कि वो हमेशा
से ही इस पैसे को मुस्लिम लड़कियों की शिक्षा पर ख़र्च करने की मांग की थी.

असद उद्दीन ओव्वैसी ने भाजपा और संघ परिवार पर निशाना साधते हुए कहा कि क्या भाजपा की योगी आदित्यनाथ सरकार को अयोध्या, काशी, मथुरा के तीर्थ यात्रियों पर खर्च किये जाने वाले 800 करोड़ रुपये को खर्च करने से रोकेगी? उन्होंने सवाल किया कि क्या मानसरोवर यात्रा पर जाने वाले प्रत्येक तीर्थयात्री को मिलने वाले डेढ़ लाख रुपये रोक दिए जाएंगे? उन्होंने कहा कि हरियाणा की भाजपा/आरएसएस सरकार ने डेरा सच्चा सौदा को एक करोड़ रूपये appeasement के लिए क्यूँ दिए? ओवैसी ने कहा कि ये पैसा भी वोट हासिल करने के लिए ही दिया गया था तो क्या ये तुष्टिकरण नहीं है?

AIMIM सुप्रिमो ने यह भी सवाल किया कि राजस्थान सरकार ने भी वित्त वर्ष 2017-18 में मंदिरों और हिन्दू पुजारियों के प्रशिक्षण पर 26 करोड़ रूपये ख़र्च कर दिए. उन्होंने पूछा कि क्या ये तुष्टिकरण नहीं है? उन्होंने सवाल किया कि केंद्र की मोदी सरकार ने मध्य प्रदेश सरकार को सिंहस्थ महाकुंभ के लिए क्यों 100 करोड़ रुपये दिए और प्रदेश सरकार ने उस पर 3400 करोड़ रुपये क्यों खर्च किए? क्या यह तुष्टिकरण नहीं है?

हैदराबाद से लोकसभा सांसद और तेज तर्रार नेता असद औवेसी ने केन्द्र की मोदी सरकार को चुनौती देते हुए कहा कि हज सब्सिडी खत्म करने के बाद मुस्लिम लड़कियों के स्कॉलरशिप के लिए अपने कहानुसार 20 हजार करोड़ रुपये आवंटित करें। उन्होंने कहा कि मुझे इस पर भी शक है कि मोदी ऐसा करेंगे। खैर इंतजार भी ज्यादा लंबा नहीं है। 2018-19 का अगला बजट जल्द आनेवाला है, देखेंगे ?

[get_Network_Id]

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *