मलेशिया में मुसलमानों की भावनाओं का ख्याल रखते हुए पद्मावत पर लिया गया ये फैसला..

January 30, 2018 by No Comments

बॉलीवुड डायरेक्टर संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘पद्मावत’ भारत में 25 जनवरी को रिलीज़ कर दी है। वहींं अब मलेशिया में इस फिल्म को बैन कर दिया गया है। मलेशिया के सेंसर बोर्ड ने इसके पीछे ये कारण दिया है कि ‘पद्मावत’ मुस्लिम समुदाय की भावनाएं आहत करने वाली फिल्म है।

मलेशिया की नेशनल फिल्म सेंसरशिप बोर्ड के चेयरमैन मोहम्मद जम्बेरी अब्दुल अजीज ने कहा है कि ये ‘इस्लामिक भावनाओं’ को ध्यान में रखते हुए यह फैसला लिया गया है। मुस्लिम बहुल देश मलेशिया में फिल्म की स्टोरीलाइन चिंता का विषय है। मलेशिया के नैशनल फिल्म सेंसरशिप बोर्ड ने देश में संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावत के रिलीज पर बैन लगा दिया है। उनका कहना है कि फिल्म में अलाउद्दीन खिलजी के किरदार को जिस तरह से दर्शाया गया है।

वह मुस्लिम समुदाय की भावनाओं को आहत कर सकता है। इसपर बैन लगाए जाने के बाद मलेशिया में फ़िल्म डिट्रिब्युटर्स ने सेंसर बोर्ड के फैसले के ख़िलाफ़ अपील दायर की है।

गौरतलब है कि मलेशिया मुस्लिम बहुल देश है, इसलिए ‘पद्मावत’ को यहां बैन करने की वजह मानी जा रही है। 16वीं सदी के भारतीय कवि मलिक मोहम्मद जायसी की काव्य रचना पद्मावत पर आधारित इस फिल्म का नाम भंसाली ने पद्मावती के नाम पर रखा था, लेकिन भारत में हुए तमाम विवादों के बाद सेंसर बोर्ड के सुझाव पर उन्होंने नाम को बदलते हुए ‘पद्मावत’ कर दिया। जिसके बाद इसे रिलीज़ किया गया।
आपको बता दें की फ़िल्म में दीपिका पादुकोण, रणबीर सिंह और शाहिद कपूर मुख्य भूमिका में हैं। विवादों में रहने के बावजूद फ़िल्म ‘पद्मावत’ भारत में बॉक्स ऑफ़िस पर अच्छा कारोबार कर रही है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक फिल्म ने अब तक सौ करोड़ से ज़्यादा रुपये का बिज़नेस कर लिया है। वहीँ पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान में पद्मावत का अनकट वर्ज़न रिलीज़ किया जाएगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *