पहलू खान केस: गवाही देने जा रहे लोगों पर हुआ जान-लेवा हम-ला…

September 29, 2018 by No Comments

नई दिल्ली: राजस्थान के अलवर में बीते वर्ष हुई मॉब लिंचिंग का शिकार हुए बने पहलू ख़ान की हत्-या के चश्मदीद गवाहों पर जानलेवा हम-ला हुआ है. ये हम-ला अलवर में एनएच-8 पर उस समय हुआ जब सभी गवाह हरियाणा के नूह से एक गाड़ी से कोर्ट में गवाही देने बहरोड़ जा रहे थे. इस दौरान हम-लावरों ने फायरिंग की. इस हम-ले में सभी गवाह सुरक्षित बच गए. घटना के समय गवाहों के साथ गाड़ी में मौजूद वकील और सामाजिक कार्यकर्ता असद हयात ने बताया कि पहलू ख़ान की हत्-या के गवाह अजमत, रफ़ीक और पहलू ख़ान के बेटे इरशाद और आरिफ़ के साथ वे सभी लोग एक गाड़ी से कोर्ट में गवाही के लिए बहरोर जा रहे थे.

उन्होंने कहा, “जैसे ही हमले निमराना पार किया, एक काले रंग की बिना नंबर की स्कॉर्पियो ने हमें रोकने के लिए ओवरटेक करने की कोशिश की. गाड़ी में मौजूद लोग हाथ से रुकने के लिए कह रहे थे. लेकिन गाड़ी पर कोई नंबर प्लेट नहीं होने की वजह से हमने गाड़ी नहीं रोकी. इसके बाद उनकी गाड़ी हमारे काफी क़रीब आ गई और वे हमें गालियां देते हुए गाड़ी रोकने के लिए कहने लगे. जब इसके बाद भी हम नहीं रुके तो उन्होंने हम पर गोली चला दी.”

असद हयात ने बताया कि हम-लावरों से बचने के लिए उन लोगों ने यूटर्न लिया हालाँकि गोलियाँ चलती ही रहीं. इसमें अच्छी बात ये रही कि ड्राईवर ने गाड़ी नहीं रोकी और वो तेज़ी से गाड़ी भगाता रहा. आख़िर हम-लावर भाग गए. असद हयात ने बताया कि वे लोग गांवों से होते हुए दूसरे रास्ते से अलवर एसपी से मिलने जा रहे हैं. पहलू ख़ान के बेटे इरशाद ख़ान ने कहा कि अगर हम लोग भी मारे जाएंगे तो गवाही कौन देगा.

इरशाद ने कहा, “हमें बहरोर पुलिस पर भरोसा नहीं है, क्योंकि इस मामले में एपआईआर में नामजद 6 लोगों के उन्होंने पहले ही क्लीनचीट दे दिया है. इसलिए हमलोग सीधा जिले के एसपी से मिलने जा रहे हैं.” पहलू ख़ान के बेटे ने ये मांग की है कि केस को बहरोर से कहीं और स्थानांतरित किया जाना चाहिए. आपको इस बारे में बता दें कि पिछले साल एक अप्रैल को अलवर में मवेशी लेकर जा रहे पहलू ख़ान की गौरक्षकों ने पीट-पीटकर हत्-या कर दी थी. घटना के समय पहलू खान के बेटे इरशाद औऱ आरिफ के साथ अजमत औऱ ररफीक भी उसी ट्रक में मौजूद थे. इस हमले में बुरी तरह घायल हुए 55 वर्षीय पहलू खान की मौ-त हो गई थी.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *