पंजाब से भी उठी मांग; राहुल गाँधी का कांग्रेस अध्यक्ष बनना तय

अब ऐसा लग रहा है कि दिवाली के बाद राहुल गाँधी के अध्यक्ष बनाए जाने का एलान कांग्रेस पार्टी कर देगी. इसको लेकर जहाँ लगातार कांग्रेस कार्यकर्ता उत्साहित हैं वहीँ इस बात को मज़बूती भी मिलती जा रही है. यूँ तो राहुल ही कांग्रेस की कमान संभाल रहे हैं लेकिन औपचारिक तौर पर सोनिया गाँधी ही कांग्रेस की अध्यक्ष हिं.

ताज़ा जानकारी ये है कि पंजाब कांग्रेस समिति ने राहुल गाँधी को पार्टी का अध्यक्ष बनाए जाने को लेकर प्रस्ताव दिया है. इसके पहले उत्तर प्रदेश और दिल्ली में भी इस तरह का प्रस्ताव पारित हो चुका है.राजस्थान और मध्य प्रदेश से भी इसी तरह के सुर आ रहे हैं.

ऐसा माना जा रहा है कि पार्टी अगला लोकसभा चुनाव राहुल गाँधी के नेतृत्व में ही लड़ेगी. पार्टी के नेताओं के मुताबिक़ एक तो सोनिया गाँधी की अब तबी’अत भी ठीक नहीं रहती है और इस वजह से वो सक्रिय नहीं रहतीं हैं, तो राहुल गाँधी ने भी पार्टी को पूरी तरह अपने कण्ट्रोल में कर लिया.

एक समय था जब पार्टी के भीतर के कुछ नेता ये सोचते थे कि राहुल कांग्रेस चला नहीं पायेंगे लेकिन अब उनके तेवर देखकर सब ये मान चुके हैं कि कांग्रेस पार्टी का भला राहुल गाँधी के ही नेतृत्व में होगा.

पार्टी के वरिष्ट नेता भी चाहते हैं कि इस मामले में पार्टी ने जो पिछले चुनाव में असमंजस दिखाया उस वजह से पार्टी को चुनाव में नुक़सान हुआ. अब चीज़ें साफ़ करने की ज़रुरत पार्टी को महसूस हो रही है.

बहरहाल, दिवाली के बाद राहुल पार्टी अध्यक्ष बनते हैं या नहीं ये तो वक़्त ही बतायेगा लेकिन गुजरात चुनाव में जिस प्रकार वो भाजपा पर हमले कर रहे हैं उससे कांग्रेसी नेता गदगद हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.