HP में कांग्रेस को जीत की उम्मीद-‘मोदी सरकार से तंग आ चुके हैं लोग’

शिमला/नई दिल्ली: चुनाव आयोग ने आज हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए तारीख़ की घोषणा कर दी. इसी के साथ राज्य में आचार संहिता लग गयी है. इस बीच कांग्रेस के हिमाचल प्रदेश जनरल सेक्रेटरी सुशिल शिंदे ने कहा कि उनकी पार्टी की तैयारी पूरी है. उन्होंने कहा कि वो पिछले दो महीनों से ही पूरे राज्य का दौरा कर रहे हैं.

शिंदे ने कहा कि राज्य का दौरा करने के बाद उन्हें ये लगता है कि लोग कांग्रेस के पक्ष में हैं और मोदी सरकार से तंग आ चुके हैं.

हिमाचल प्रदेश चुनाव में हालाँकि भाजपा को भी कमज़ोर नहीं माना जा सकता. भाजपा के नेता पूरे उत्साह में भी हैं. हालाँकि कांग्रेस और भाजपा दोनों के नेता ये मन रहे हैं कि इस बार मामला लगभग बराबरी का है. भाजपा की एक परेशानी ये भी है कि अभी तक राज्य में पार्टी नेता नहीं चुन सकी है जबकि कांग्रेस की ओर से मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ही मुख्यमंत्री चेहरा होंगे.

हिमाचल प्रदेश में 9 नवम्बर को होंगे चुनाव, 18 दिसम्बर को होगी वोटों की गिनती. चुनाव आयोग ने बताया कि हिमाचल प्रदेश के सभी बूथों पर वीडियो ग्राफी की व्यवस्था की जायेगी. हर उमीदवार 28 लाख रूपये ख़र्च कर सकता है. हिमाचल में 7521 बूथ रहेंगे. बल्क sms और फ़ोन पर वौइस् मेसेज को भी इलेक्शन के प्रचार का हिस्सा माना जाएगा. हिमाचल के अलावा गुजरात में भी चुनाव होने हैं. आज गुजरात चुनाव की तारीख़ तो घोषित नहीं हुई है लेकिन दिसम्बर में राज्य में चुनाव होगा. गुजरात और हिमाचल प्रदेश दोनों ही राज्यों में कांग्रेस और भाजपा का सीधा मुक़ाबला है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.