पिछले 3 साल से अपने देवर के साथ गलत रिश्‍ते में हूं,अब मैं उसके बिना जी नही सकती हूँ , मैं क्या करू ?

सवाल: कहते हैं कि पति-पत्नी का रिश्ता प्यार और विश्वास पर टिका होता है। लेकिन मेरी शादी में मुझे ऐसा कुछ नहीं मिला। अपने पति की कुछ अक्षमताओं के कारण मैं शादी के तुरंत बाद अपने देवर के प्रति आकर्षित हो गई। हालांकि, मेरी शादी में कोई समस्या नहीं है, लेकिन इसमें प्यार और देखभाल की कमी हमेशा बनी रही।शादी के बाद आमतौर पर विवाहित जोड़े एक-दूसरे के साथ अच्छा समय बिताते हैं। लेकिन मैंने अपने पति के साथ नहीं बल्कि यह समय अपने देवर के साथ बिताया। 3 साल तक मैं अपने देवर के साथ रिलेशन में थीं, लेकिन फिर उसने शादी कर ली। शादी के बाद हमारे बीच चीजें खराब होने लगीं।

मैं उसके प्रति वफादार हूं। लेकिन अब वह मुझसे ज्यादा अपनी पत्नी के साथ समय बिताता है। अपने रिश्ते के बारे में वह मुझसे झूठ बोलता है। वह कहता है कि वह केवल मुझसे प्यार करता है। अपनी पत्नी को पसंद नहीं करता है।अपनी शादी की वजह से वह मुझे ज्यादा समय नहीं दे रहा है। इस वजह से हमारे बीच झगड़े भी काफी हो रहे हैं। जब भी मैं इस रिश्ते को खत्म करने का फैसला करती हूं, तो मेरा देवर चीजों को सही करने की कोशिश करने लगता है।मैं तय नहीं कर पा रहा हूं कि मुझे क्या करना चाहिए। मैं उससे बहुत प्यार करती हूं। उसके साथ रहना चाहती हूं। मैं उसे छोड़ नहीं सकती। मैं इस सिचुएशन से कैसे निपटूं।

एक्सपर्ट की सलाह -डॉक्टर रचना खन्ना कहती हैं कि मैं समझ सकती हूं कि इस सिचुएशन में पड़कर आप कैसा महसूस कर रही होंगी। लेकिन यहां एक बात समझने की जरूरत है कि आप दोनों की जिंदगी पूरी तरह से अलग-अलग है।आपके बीच न केवल देवर-भाभी का रिश्ता है बल्कि आप दोनों ही अपने जीवनसाथी के साथ अपनी शादी को निभाने के लिए बाध्य भी हैं।अब आपके देवर की शादी हो गई है। ऐसे में इस रिश्ते को पहले जैसे रखना न केवल आप दोनों के लिए कठिन होगा

बल्कि इसके परिणाम भी विनाशकारी हो सकते हैं। अगर आप दोनों इस रिश्ते के साथ आगे बढ़ते हैं, तो इसकी कीमत पूरे परिवार को चुकानी पड़ेगी। अगर आप दोनों वाकई में एक-दूसरे से बहुत प्यार करते हैं।साथ में रहना चाहते हैं, तो आपको अपने रिश्ते को एक नाम देना होगा.अगर आप दोनों पूरी तरह से एक-दूसरे के प्यार में पागल हैं, तो अपने लिए एक स्टैंड ले सकते हैं। इस बात में कोई शक नहीं कि आप दोनों के साथ में होने की खबर से पूरे घर में एक बड़ा तूफान आ सकता है।

इसके कुछ बड़े घातक परिणाम भी हो सकते हैं। लेकिन अगर आपको लगता है कि आप दोनों साथ में पहले से ज्यादा खुश रहेंगे, तो आपको अपने लिए यह कदम उठाना होगा।

एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर्स रखना सही या गलत?
वैसे तो प्यार करना कोई गुनाह नहीं है, लेकिन आपको समझना होगा कि आप दोनों के बीच रिश्ता किस प्रकार का है। आप गलत हैं या सही, इसका निर्णय केवल आपको ही करना होगा। कानून-सामाजिक मान्यताओं और परिवार को ध्यान में रखकर आप खुद से पूछें कि आपके रिश्ते को किस तरह से जज किया जा सकता है।

ऐसा इसलिए क्योंकि इस तरह के संबंधों में प्यार से ज्यादा धोखा नजर आता है। शादीशुदा होने के बाद भी किसी और के साथ शारिरीक संबंध बनाना बिल्कुल भी सही नहीं है। ऐसा करने से आप दोनों ही दुनिया वालों की नजरों में झूठे-धोखेबाज साबित हो सकते हैं। शायद इस एक गलती की वजह से आपको अकेला भी रहना पड़ जाए।

अगर आपकी भी रिश्तों से जुड़ी कोई कहानी है, जिसे आप सबके साथ साझा करना चाहते हैं तो उसे admin@bharatduniya.com पर भेज सकते हैं। आपका नाम गुप्त ही रखा जाएगा। वहीं अगर आपके पास भी इस महिला के लिए कोई समाधान है, तो वो भी शेयर कर सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published.