इस गाँव में लगे पोस्टर-‘भाजपा वालों का आना मना है”

October 30, 2018 by No Comments

लोकसभा 2019 का चुनाव अगले कुछ महीनों में होने वाले हैं उससे पहले भाजपा सरकार को तमाम दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है ।लोकसभा 2014 के चुनाव में जब भाजपा को पूर्ण बहुमत के साथ जनता ने अपनी सरकार चुना था। तब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने सांसदों से एक-एक गांव गोद लेकर उसके विकास करने का आश्वासन दिया था ,लेकिन 4 साल पूरे होने को है सांसदों द्वारा लिए गए गांव का विकास कहीं दिखाई नहीं दे रहा है। आज हम आपको भाजपा के एक सांसद द्वारा लिए गए गांव के बारे में बताने वाले है।

गौतमबुद्ध नगर से सोलवहीं लोकसभा के सांसद डॉ. महेश शर्मा के गोद लिए गांव की एक तस्वीर इन दिनों सोशल मीडिया पर ख़ूब वायरल हो रही है। यह तस्वीर दादरी के गांव कचहैड़ा में लगे एक बोर्ड की है जिसमें लिखा है कि यहां बीजेपी वालों का आना सख्त मना है।किसानों ने बोर्ड लगाकर उसकी फोटो को सोशल मीडिया पर भी वायरल कर दिया है। बोर्ड के लेकर लोगों में चर्चा है। जबकि कचहैड़ा गांव सांसद द्वारा विकास के लिए गोद लिया हुआ है।

आपको बता दें कि,बोर्ड कथित तौर पर स्थानीय प्रशासन और रियलिटी ग्रुप के कर्मचारियों द्वारा किसानों की तैयार फसल को नष्ट करने के बाद रविवार (28 अक्टूबर) को लगाया गया है। बादलपुर के कचैड़ा गांव के निवासी और किसान तेजिंदर नागर (35) ने आरोप लगाया, पांच दिन पहले 25 से 30 मशीनों द्वारा हमारे द्वारा छह महीने पहले रोपे गए फसल, जो अब तैयार हो चुके थे, को बर्बाद कर दिया गया। ट्रैक्टर के चारो ओर करीब 100 पुलिस जवान तैनात थे ताकि गांव वाले और किसान उस काम को बाधित नहीं कर सकें। जब हमने सवाल किया तो हमारे उपर लाठियां बरसाई गई।

ग्रामीणों के अनुसार, कंपनी द्वारा किसी तरह के विकास का काम नहीं किया गया और वे खेती करते रहे। रविवार को अधिकारियों ने फिर से जमीन पर दावा किया।स्थानीय लोगों का कहना है कि वह जब भीम सांसद से संपर्क करने की कोशिश करते हैं तो उनसे संपर्क नहीं हो पाता है और वह हमेशा ही वह बैठक टल जाती है। प्रदर्शन के दौरान लोगों पर लाठीचार्ज हुई थी जैसे कई लोग घायल भी हो गए थे।लाठी चार्ज के दौरान घायन होने की बात कहते हुए रणवीर सिंह का कहना है कि,“उनका (महेश शर्मा) का फोन बंद बता रहा है और वे किसी तरह के लेटर का जवाब नहीं दे रहे हैं। इस वजह से गुस्से में हमने साइनबोर्ड लगाया है,। शर्मा ने केवल नाम के लिए इस गांव को गोद लिया है।”

इन सब मामले में स्थानीय प्रशासनिक का कहना है कि जमीन एक ग्रुप को बिल्कुल ही कानूनी तरीके से बेची गई है ।इसमें किसी भी तरह के दाम ले बाजी नहीं हुई है और वही सांसद जी का कहना है कि ,यह सब एक साजिश के तहत हो रहा है एक विशेष ग्रुप के और समूह के लोग उन्हें उनकी छवि को बर्बाद करने की कोशिश कर रहे हैं। साथ ही साथ उन्होंने यह भी कहा कि सपा के एक नेता को हिरासत में लिया गया था। कुछ दिनों के लिए मैं राज्य से बाहर हूं। मैं किसानों के साथ हूं और कुछ ही समय में उनकी सभी समस्याओं को दूर कर दूंगा।”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *