निकाय चुनाव का प्रचार करने गए CM योगी का अयोध्या में हुआ विरोध

अयोध्या: अपुष्ट ख़बरों से पता चला है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को अयोध्या में विरोध का सामना करना पड़ा है. निकाय चुनाव में प्रचार करने आये मुख्यमंत्री को सांकेतिक विरोध का सामना करना पड़ा है. इस मामले में अभी और जानकारी आनी बाक़ी है.

आदित्यनाथ ने यहाँ कहा कि अयोध्या का विकास अयोध्या की तरह हो. उन्होंने कहा कि ये भगवान् राम की जन्म भूमि है और जो भी आपकी पहचान के साथ भेद-भाव करने वाले लोग हैं उन्हें माफ़ नहीं किया जाएगा. उन्होंने कहा कि यहाँ सड़क, बिजली पानी की सुविधाएं ठीक होनी चाहियें. उन्होंने कहा कि जो भी जनता का पैसा है वो जनता के ही काम में खर्च होना चाहिए. उन्होंने कहा कि यहाँ साफ़ पानी, सड़कें, और पार्क होने चाहियें. उन्होंने कहा कि जनता का पैसा ठीक जगह खर्च होना चाहिए.

इस मौक़े पर उन्होंने विरोधियों पर हमला भी बोला. उन्होंने कहा कि इसके पहले की सरकारों ने कोई विकास नहीं किया. उन्होंने कहा कि उनकी सरकार काम कर रही है और इसके लिए पूरी तरह से गंभीर है.

कुछ अन्य ख़बरें, एक नज़र में..
1. कुछ राजपूत संस्थाएं पद्मावती फ़िल्म का विरोध कर रही हैं. इन दक्षिणपंथी संघठनों का मानना है कि फ़िल्म में रानी पद्मिनी के करैक्टर के साथ छेड़छाड़ की गयी है. जहां एक ओर इसे इतिहास पर आधारित फ़िल्म कहा जा रहा है वहीँ रानी पद्मिनी नाम की रानी उस दौर में थीं भी कि नहीं इसको लेकर इतिहासकारों में भी मतभेद है. अब ऐसे में लोगों का विरोध इतिहास को लेकर है या मालिक मुहम्मद जायसी की रचना को लेकर ये समझना मुश्किल है.

2. आज पंडित जवाहरलाल नेहरु का जन्मदिवस है. ये दिन हर साल “बाल दिवस” के बतौर मनाया जाता है. देश के पहले प्रधानमंत्री को देश भर से प्यार मिला है.

3. उच्चतम न्यायलय ने कामिनी जैसवाल की पेटीशन को रद्द कर दिया है. इस पेटीशन के ज़रिये जैसवाल ने मांग की थी कि मेडिकल कॉलेज एडमिशन घोटाले की जांच SIT से करायी जाए.

Leave a Reply

Your email address will not be published.