दमन के ख़िलाफ़ क़तर के बादशाह का क़दम, इस अरब देश की मदद…

October 11, 2018 by No Comments

पश्चिमी एशिया में इस समय कुछ देश तो युद्ध की चपेट में हैं लेकिन एक ऐसा देश है जो पूरी तरह से समृद्ध है लेकिन इस समय अपने ही क़रीबी देशों से नाराज़गी झेल रहा है. ऐसे में कई तरह के प्रतिबन्ध भी इस पर लगे हैं लेकिन जिस तरह से ये अपने आस पास के परेशान हाल लोगों की मदद करता है ये क़ाबिल-ए-तारीफ़ है.

हम बात कर रहे हैं पश्चिमी एशिया के छोटे से देश क़तर की. क़तर बहुत छोटा सा देश है जहाँ अरबी भाषा बोली जाती है. लम्बे समय से सऊदी अरब जैसे देशों की नाराज़गी झेल रहे क़तर ने अपनी ओर से आस पास के क्षेत्र की मदद करना बंद नहीं किया है. क़तर ने गाज़ा की मदद को हाथ बढ़ाया है.

क़तर ने बुधवार को गाज़ा के लिए 150 मिलियन डॉलर की मदद करने की घोषणा की. फ़िलिस्तीन के क्षेत्र में आने वाले गाज़ा पर इजराइल ने कई तरह के प्रतिबन्ध लगाए हुए हैं और ये चारों तरफ़ से घिरा हुआ है. इसको दुनिया की सबसे बड़ी ओपन जेल कहा जाता है. क़तर के विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी कर बताया है कि ये पैसा क़तर डेवलपमेंट फण्ड के ज़रिये दिया जाएगा. क़तर डेवलपमेंट फण्ड एक सरकारी बॉडी है जो इस तरह के काम करने के लिए रहती है.

PC: Middle East Moniter


मंत्रालय ने अपने बयान में कहा कि क़तर के अमीर शेख़ तमीम बिन हमद अल-थानी ने गाज़ा की परेशानियों को समझते हुए 150 मिलियन डॉलर की मदद करने कीई घोषणा की है. इसके अतिरिक्त हम आपको बता दें कि गाज़ा में क़तरी फ्यूल की सप्लाई पुनः चालु कर दी गयी है.

संयुक्त राष्ट्र सेक्रेटरी जनरल अंतोनियो गुतेरस के प्रवक्ता स्तेफाने दुजर्रिक ने बताया कि तेल से भरे हुए 15 ट्रक क़तर से चल चुके हैं और जल्दी ही गाज़ा में ये पहुँचने लगेंगे और ये डेली बेसिस पर होगा.आपको बता दें कि फ़िलिस्तीन में इस समय दो सरकारें हैं, एक वेस्ट बैंक के एरिया पर कण्ट्रोल करती है जिसे संयुक्त राष्ट्र ने भी मान्यता दे रक्खी है और इसके राष्ट्रपति महमूद अब्बास हैं. दूसरी ओर गाजापट्टी पर हमास का कण्ट्रोल है. हमास को अब्बास भी पसंद नहीं करते हैं और इजराइल भी.


अब्बास और हमास की अनबन का फ़ायदा इजराइल और अमरीका जैसे देशों को मिलता है. हमास को इजराइल आतंकवादी संगठन मानता है जबकि पश्चिमी देश भी इसके हिंसक रवैये से बहुत ख़ुश नहीं रहते.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *