’22 हज़ार करोड़ के नीरव मोदी और 58000 करोड़ के राफ़ेल घोटाले पर भी बोलिए मोदी जी’

February 21, 2018 by No Comments

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है. उन्होंने एक बार प्रधानमंत्री के “मन की बात” कार्यक्रम पर कटाक्ष किया है. उन्होंने कहा कि पिछले महीने जब मैंने मोदी जी को सुझाव दिए थे तो उन्होंने उन्हें इग्नोर कर दिया था. उन्होंने ट्विटर के ज़रिये कहा कि आपको सलाह लेने की ज़रुरत ही क्यूँ है जबकि आप जानते हैं कि पूरा देश किन मुद्दों पर आपके विचार जानना चाहता है.

उन्होंने एक बार फिर राफेल डील का मुद्दा उठाया और साथ ही साथ उन्होंने नीरव मोदी के मुद्दे पर भी प्रधानमंत्री को घेरा. राहुल शुरू से कहते हैं आये हैं कि नीरव मोदी घोटाला 11 हज़ार करोड़ की लूट का नहीं है बल्कि 22 हज़ार करोड़ की लूट का है. उन्होंने ट्विटर के ज़रिये कहा कि दो मुद्दों पर उन्हें अपनी बात “मन की बात” कार्यक्रम में रखनी चाहिए. उन्होंने कहा कि एक तो नीरव मोदी का 22 हज़ार करोड़ का घोटाला और दूसरा 58000 करोड़ का राफ़ेल घोटाला.

इसके पहले भी उन्होंने इस मुद्दे पर ट्वीट किया था, उन्होंने कहा था,”पहले ललित फिर माल्या, अब नीरव भी हुआ फरार, कहाँ है ‘न खाऊँगा, न खाने दूँगा’ कहने वाला देश का चौकीदार?.. साहेब की खामोशी का राज़ जानने को जनता बेकरार, उनकी चुप्पी चीख चीख कर बताए, वो किसके हैं वफादार”

नीरव मोदी के ऊपर 11 हज़ार करोड़ से अधिक के घोटाले का इलज़ाम है. ऐसे में नीरव मोदी और उसके परिवार का विदेश भाग जाना ये सवाल खड़े कर रहा है कि क्या सरकार ने जानबूझ कर नीरव मोदी को जाने दिया. गौरतलब है कि नीरव मोदी 11 हज़ार करोड़ का घोटाला करके देश से भाग गया है. ऐसे में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार की आलोचना हो रही है कि नीरव मोदी सरकार की नाक के नीचे से कैसे भाग गया. इस बारे में नीरव मोदी के वकील विजय अग्रवाल ने कहा है कि उनके क्लाइंट के बारे में ये बात ग़लत फैलायी जा रही है कि वो भाग गए, उन्होंने कहा कि नीरव मोदी का व्यापार विदेशों में भी है तो वो बाहर जाते रहते हैं लेकिन सरकार का उसका पासपोर्ट ज़ब्त कर लेना ग़लत है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *