15 लाख की बात थी लेकिन 1 रुपया भी किसी के अकाउंट में नहीं आया: राहुल गाँधी

November 6, 2017 by No Comments

चंबा: हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के प्रचार के लिए आज कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने चंबा के चौगान मैदान में एक विशाल जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान कांग्रेस के समर्थन में भारी जन सैलाव देखने को मिला जो इस बात का प्रतीक है कि हिमाचल में कांग्रेस सरकार जनता के समर्थन से एक ऐतिहासिक जीत की ओर बढ़ रही है। इस मौके पर माननीय मुख्यमंत्री राजा वीरभद्र सिंह, श्रीमती आशा कुमारी, ठाकुर सिंह भरमौरी, विजय इंदर सिंगला जी सहित कई बड़े नेता मौजूद रहे।

जनसभा में राहुल गांधी के कांग्रेस द्वारा प्रदेश में अपने कामों द्वारा हासिल की गई उपलब्धियों पर बात की। उन्होंने कहा कि इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक शिक्षा, स्वास्थ्य और इंफ्रास्ट्रक्चर में हिमाचल प्रदेश पांचवे नंबर पर और स्वच्छता के मामले में पहले नंबर पर आता है। राज्य में हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह द्वारा किया गया विकास बोलता है। मोदी जी ने स्वच्छ भारत अभियान चला रखा है, लेकिन हिमाचल प्रदेश हमेशा से स्वछता से हम सब भली-भांति वाकिफ हैं।
अगर जनसंख्या के मुताबिक देखा जाए तो रोजगार के मामले में हिमाचल प्रदेश, अन्य प्रदेशों से बहुत आगे हैं। पूर्व प्रधानमंत्री स्व. इंदिरा गांधी को याद करते हुए राहुल ने कहा, वह कहती थी कि दुनिया में दो किस्म के लोग होते हैं। एक जो काम करते हैं और दूसरे जो क्रेडिट ले जाते हैं।
हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी दूसरी केटेगरी में आते हैं। गीता में लिखा है कि काम करो और फल की इच्छा मत करो। लेकिन मोदी जी का वर्जन है। काम मत करो लेकिन फल सब खा जाओ।

गुजरात और हिमाचल प्रदेश में रोजगार के बारे में उन्होंने बताया कि बीते साल हिमाचल में 14 हजार लोगों को रोजगार मिला है, जबकि गुजरात में इससे आधे लोगों को। बेरोजगारों की यहाँ 1 हजार रूपये भत्ता मिलता है और गुजरात में युवा इसके लिए भी रोते हैं। यहाँ पर सरकारी स्कूल खुल रहे हैं और वहां बंद किये जा रहे हैं। मोदी जी जहाँ जाते हैं भ्रष्टाचार की बात करते हैं, जबकि नीति आयोग ने भी कहा है कि हिमाचल प्रदेश में भ्रष्टाचार सब से कम है।
मैं मोदी जी से मध्य प्रदेश में हुए व्यापम घोटाले के बारे में पूछना चाहता हूँ कि इसमें 50 लोग मारे गए, शिक्षा विभाग में इतने बड़े लेवल पर धोखाधड़ी हुई। ललित मोदी जैसे लोग यहाँ से पैसा लूट लंदन भागे हुए हैं. लेकिन ऐसे मामलों के बारे में वह कोई बात नहीं करते, इस भ्रष्टाचार पर उनसे एक शब्द नहीं बोला जाता। हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने क्रिकेट एसोसिएशन की जमीन हड़प ली, उनके बेटे अनुराग ठाकुर को सुप्रीम कोर्ट ने बीसीसीआई से हटा दिया। लेकिन उन्हें ये सब नहीं दिखता।

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के बेटे की कंपनी मोदी जी के प्रधानमंत्री बनते ही धड़ाधड़ पैसे कमाने लग गई और देश की अन्य छोटी-बड़ी कंपनियां जीएसटी से परेशान हैं। जय शाह की कंपनी ने 4 महीने में 50 हजार से 80 हजार करोड़ के फायदे पर पहुंच गयी।
मोदी जी ने सत्ता में आते हुए कहा था कि मैं न खाऊंगा और न खाने दूंगा। अब वह कहते हैं न बोलूंगा और न बोलने दूंगा। जय शाह पर अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई।

उन्होंने कहा कि मोदी गरीबों के मसीहा बनकर उन्हें लूटते हैं और वो पैसा 5-10 उद्योगपतियों पर लगा देते हैं। देश के गरीब किसान रोते रहे लेकिन उनका कर्जा माफ़ नहीं किया। हाँ, कुछ बड़े उद्योगपतियों पर उनकी दया-दृष्टि जरूर पड़ गई। जिनका करोड़ों का कर्जा माफ़ हो गया। बीते साल नोटबंदी हुई, तो गरीब लोग सबसे ज्यादा परेशान हुए। क्यूंकि वह क्रेडिट कार्ड में नहीं कैश में काम करते हैं।

मोदी जी इतनी समझ नहीं आई कि सारा कैश काला धन नहीं होता। सत्ता में आने से पहले उन्होंने वादा किया था कि स्विस बैंक से काला धन वापिस आएगा। लेकिन मोदी जी ने गरीब लोगों पर केहर बरसा दिया। वह बस गरीब लोगों के पीछे पड़े हैं। हर परेशानी का सामना गरीब आदमी को करना पड़ा। लेकिन एक रुपया भी उनके बैंक में नहीं आया।

वहां मौजूद जनता से राहुल ने पुछा कि क्या यहाँ कोई ऐसा शख्स मौजूद हैं, जिसके बैंक अकाउंट में 1 रुपया भी आया हो। नोटबंदी के बाद लाइनों में बड़े बिजनेसमैन नहीं, आम जनता ने धक्के खाएं हैं। बीजेपी कह रही है कि 8 नवंबर को सेलिब्रेशन करेंगे। मुझे समझ नहीं आ रहा किस बात की सेलिब्रेशन करेंगे ये लोग। कालाधन एक रुपया वापिस नहीं आया। भारीय अर्थ व्यवस्था को तबाह कर दिया। नोटबंदी की इतनी बड़ी चोट मारकर इनको चैन नहीं मिला तो जीएसटी लागू कर दिया।

इस पर भी हमने वित्त मंत्रालय से कहा था कि 18% से कम जीएसटी लगना चाहिए। क्यूंकि भारत में गरीब लोग टैक्स देते हैं। बड़े बिजनेसमैन नहीं। बड़े उद्योगपतियों को इसका फायदा है। तभी बीजेपी ने इसे लागू किया है। नोटबंदी और जीएसटी ने भारतीय अर्थव्यवस्था को खत्म कर दिया, जिसे आम जनता भुगत रही है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *