राहुल पर “क़ातिलाना हमले” के पीछे भाजपा और आरएसएस: कांग्रेस

नई दिल्ली| कांग्रेस ने गुजरात में राहुल गांधी पर हुए ‘‘कातिलाना हमले’’ के पीछे भाजपा एवं आरएसएस का हाथ होने का आज आरोप लगाया और कहा कि एक सुनियोजित षड्यंत्र के तहत ऐसा किया गया।

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल ने कहा कि उनके काफिले पर भाजपा एवं आरएसएस के कार्यकर्ताओं ने हमला किया तथा यह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं भाजपा की काम करने की शैली है।

राहुल को कल प्रभावित गुजरात की उनकी यात्रा के दौरान विरोध प्रदर्शन का सामना करना पड़ा जहां कुछ लोगों ने उनकी कार पर पत्थर से हमला किया जिससे उनकी कार के शीशे टूट गये। उन्हें काले झण्डे भी दिखाये गये जिसकी वजह से उनके बनासकांठा के धनेरा कस्बे में अपने संबोधन को बीच में ही रोकना पड़ा और वह जल्दबाजी में उस स्थल से निकल लिये।

राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद ने कहा कि भाजपा एवं आरएसएस ने यह ‘‘कातिलाना हमला’’ करवाया और इसे एक सुनियोजित षड्यंत्र के तहत अंजाम दिया गया। उन्होंने कहा कि वह इस हमले की निंदा करते हैं।

उन्होंने मुख्यमंत्री विजय रूपानी की अगुवाई वाली गुजरात की भाजपा सरकार पर राहुल गांधी को सुरक्षा प्रदान करने में विफल रहने का आरोप लगाया जो एसपीजी सुरक्षा पाए एक विशिष्ट व्यक्ति हैं।

राहुल ने कहा, ‘‘भाजपा कार्यकर्ताओं ने कल की घटना में मेरे ऊपर एक बड़ा पत्थर फेंका जो मेरे पीएसओ (निजी सुरक्षा अधिकारी) को लगा। यह मोदीजी और आरएसएस की राजनीति करने का ढंग है। इसके अलावा हम क्या कह सकते हैं।’’ यह पूछे जाने पर कि न तो प्रधानमंत्री और न ही भाजपा ने अभी तक इसकी भर्त्सना की है, राहुल ने कहा, ‘‘जब उन्होंने स्वयं इस तरह की चीजें की हो तो वे इसकी भर्त्सना कैसे कर सकते हैं। यह काम उनके लोगों ने किया है तो वे इसकी भर्त्सना कैसे करेंगे।’’ कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता आजाद ने लोकसभा में पार्टी नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, राज्यसभा में कांग्रेस के उप नेता आनंद शर्मा, कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला की उपस्थिति में राहुल के ऊपर हुए हमले की कड़ी आलोचना की। आजाद ने कहा कि इस तरह की चीजें कांग्रेस और उनके उपाध्यक्ष को लोगों से मिलने और उनकी परेशानियां सुनने से रोक नहीं सकेंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.